सेंट्रल सिलेक्शन बोर्ड ऑफ कॉन्स्टेबल (CSBC) ने सिपाही बहाली 2019 का अंतिम रिजल्ट जारी कर दिया है।  इस भर्ती के तहत 11880 रिक्तियों के विरुद्ध 11838 अभ्यर्थियों को सफल घोषित किया गया है।  बिहार मिलिट्री पुलिस (Bihar Military Police), स्पेशल इंडिया रिजर्व बटालियन (Special India Reserve Battalion) और बिहार स्टेट इंडस्ट्रियल सिक्योरिटी बटालियन कॉन्स्टेबल का फाइनल रिजल्ट आया है। 

इसमें खास बात यह है कि चयनित अभ्यर्थियों में 43 फीसदी महिलाएं हैं।  वहीं 447 गृहरक्षक अभ्यर्थियों का भी चयन सिपाही पद के लिए हुआ है।  गौरतलब है कि महिला पुलिसकर्मियों के मामले में बिहार देश में अव्वल है। नई  भर्ती के रिजल्ट से स्थिति और बेहतर होगी। 

बिहार की नीतीश सरकार के कई मंत्रियों ने इसे महिला सशक्तिकरण का बेहतर उदाहरण बताया है।  बिहार सरकार में भवन निर्माण मंत्री अशोक चौधरी ने ट्वीट किया- केंद्रीय चयन पर्षद की परीक्षा में सफल हुए सभी अभ्यर्थियों को हार्दिक बधाई।  माननीय मुख्यमंत्री जी की कल्याणकारी योजनाओं का लाभ पाकर बिहार की बेटियां आगे बढ़ रही हैं, आज बिहार पुलिस महिलाओं की भागीदारी के मामले में सबसे आगे है। 

सेंट्रल सिलेक्शन बोर्ड ऑफ कॉन्स्टेबल ने अपनी वेबसाइट पर रिजल्ट अपलोड कर दिया है।  चयनित अभ्यर्थियों को 26 अप्रैल से 25 मई तक योगदान करना है।  ऐसा नहीं करने पर उनकी उम्मीदवारी रद्द की जा सकती है।  बता दें कि देश में महिला पुलिसकर्मियों की कुल क्षमता 215504 है।  बिहार में पुलिस बल की क्षमता 91862 है जिसमें 23245 महिला पुलिसकर्मी हैं जो कुल संख्या का 25.30% है। 

हालांकि संख्या के मामले में सर्वाधिक महिला पुलिसकर्मी उत्तर प्रदेश में हैं।  यूपी में में कुल पुलिस बल की क्षमता 303450 है जिनमें 29112 महिला पुलिसकर्मी हैं।  यह कुल संख्या का 9.59% है।  महाराष्ट्र में 214776 पुलिसकर्मी हैं जिनमें 26890 महिला पुलिसकर्मी हैं जो कुल संख्या का 12.52% है।  संख्या के मामले में बिहार इन दोनों राज्यों के बाद है।  लेकिन प्रतिशत के मामले में अव्वल है।