प्रकृति भी इंसानों को कई बार ऐसी विशेषताएं दे देती है जो उन्हें दुनिया में खास तो बना देती है पर उनकी जिंदगी मुश्किल कर देती है। आपने जुड़वां लोगों को तो जरूर देखा होगा, ये उनकी एक विशेषता है जो लोगों को हैरान कर देती है। हालांकि, सिर्फ एक जैसा चेहरा होने से उन्हें ज्यादा समस्या नहीं होती। पर उन लोगों का सोचिए जो एक जैसी शक्ल ही नहीं, एक ही शरीर को भी बांटते हैं! अमेरिका की रहने वाली दो बहनों के साथ भी ऐसा ही है जो दो जान तो हैं, पर एक जिस्म भी हैं।

यह भी पढ़ें- हत्या के आरोप में सजा काट रहे ओलंपियन पहलवान सुशील कुमार को कोर्ट से मिली बड़ी राहत

डेली स्टार न्यूज वेबसाइट की रिपोर्ट के अनुसार कार्मेन और लूपिटा एंड्राडे 21 साल की हैं और दोनों का जन्म मेक्सिको में हुआ था मगर अब दोनों अमेरिका के कनेक्टिकट में रहती हैं। जब वो साल 2002 में पैदा हुईं तो डॉक्टरों ने कहा कि वो सिर्फ 3 ही दिनों तक जिंदा रह पाएंगी। उसका कारण ये है कि दोनों बहनें शरीर के ऊपरी हिस्से, यानी सीने से लेकर पेट तक एक दूसरे से जुड़ी हुई पैदा हुई थीं। डॉक्टरों ने तब कहा था कि अगर उनको अलग किया जाता है तो या तो उनकी मौत हो जाएगी या फिर कई सालों तक उन्हें चिकित्सा की जरूरत पड़ेगी।

तब उनके माता पिता ने उनके साथ जुड़े रहने का फैसला किया। उनके दो सिर, दो हाथ हैं मगर पैर एक ही है। कार्मेन दायां पैर कंट्रोल करती हैं जबकि लूपिटा बायां कंट्रोल करती हैं। रिपोर्ट के अनुसार दोनों बचपन से ही साथ रही हैं इसलिए डेटिंग भी साथ में ही करनी पड़ती है। हालांकि, लूपिटा के अंदर रोमैंस की भावना नहीं पैदा होती है इसलिए वो डेटिंग से दूर रहती हैं पर कार्मेन डेढ़ सालों से एक रिलेशनशिप में थीं। उन्होंने बताया कि उनका पार्टनर उनका खास दोस्त भी है, हालांकि, उनके बीच वैसे इंटिमेट रिश्ते नहीं हैं जैसे अन्य कपल के बीच होते हैं। दोनों बहनों में डेटिंग को लेकर तकरार हो जाता है।

यह भी पढ़ें- असम के डीजीपी भास्करज्योति महंत की चेतावनी, ड्यूटी के दौरान नशे में मिले तो जाएगी नौकरी

कार्मेन ने कहा कि उनके दिमाग में शादी करना तो नहीं है पर वो किसी एक शख्स के साथ लाइफ पार्टनर के तौर पर सारी जिंदगी रहना चाहती हैं। बहनों ने कहा कि कई बार लोग उन्हें ये कहकर चिढ़ाते हैं कि जो भी उनमें से किसी एक के साथ रिलेशनशिप में होगा, उसे दोनों के साथ एक ही वक्त में रोमांस करने का मौका मिलेगा। हालांकि, वो ऐसी बातों पर ध्यान नहीं देतीं। दोनों अपनी जिंदगी से खुश हैं और खुद को लाचार या शारीरिक रूप से अक्षम भी नहीं मानती हैं।