इस समय पूरे देश में कोरोना वायरस के चलते लॉकडाउन है। इसकी वजह से देशवासियों को काफी नुकसान उठाना पड़ रहा है। देश की अर्थव्यवस्था पर भी इस लॉकडाउन का सीधा असर देखने को मिल रहा है। इसी को देखते हुए कोरोना वायरस से कम संक्रमित इलाकों में थोड़ी छूट मिलनी शुरू हो गई है। शराब की दुकानें भी खुल रही हैंI कई जगह कतार में महिलाएं भी शामिल हैं। इसी को लेकर मशहूर फिल्म निर्माता राम गोपाल वर्मा ने विवादित बयान दिया है जो सोना मोहपात्रा को पसंद नहीं आया।
सोना ने लिखा है कि प्रिय मिस्टर राम गोपाल वर्मा, अब वक्त आ गया है कि आप उन लोगों की लाइन में जाकर खड़े हो जाएं जिन्हें असली ज्ञान की सबसे ज्यादा जरूरत है, ताकि आपको पता चले कि ये जो ट्वीट आपने किया है वो महिलाओं से भेदभाव जैसी चीज को तो बढ़ावा दे ही रहा है और समाज के नैतिक मापदंडों से भी सरोकार नहीं रख पा रहा। आपको बता दूं कि महिलाओं को भी पुरुषों की तरह शराब खरीदने और पीने की छूट है पर आपको पता होना चाहिए कि किसी के पास भी शराब पीकर उग्र और फसादी होने का हक नहीं है।
बता दें कि सोना मोहपात्रा महिलाओं के समर्थन में आवाज उठाती रहती हैं। पिछले साल उन्होंने मीटू मूवमेंट का भी खूब समर्थन किया था और आरोप के घेरे में आ रहे स्टार्स की जमकर क्लास लगाई थी।