लोगों को अक्ल आने में ही अच्छा-खासा वक्त निकल जाता है। वे जीने का सही तरीका सीखने में वक्त लगा देते हैं। लेकिन लंदन की रहने वाली एक लड़की को ज़िंदगी जीने का सलीका और अक्ल सही वक्त पर आ गई, जिसका नतीजा ये हुआ कि जब लोग करियर के बारे में सोचते हैं, तब तक वो अपने लिए घर भी खरीद चुकी है।

यह भी पढ़े :  नहीं देखी होगी ऐसी हिन्दू-मुस्लिम एकता , यहां की दुर्गा पूजा साम्प्रदायिक सौहार्द का संदेश देती है 

मिरर की रिपोर्ट के मुताबिक वैलेंटीना हैडोम नाम की लड़की ने 13 साल की उम्र से सेविंग शुरू कर दी थी और अपन पैसे कपड़ों और मेकअप पर खर्च नहीं किए। इसका नतीजा ये है कि 18 साल की उम्र में वो अपना घर खरीद चुकी हैं। वैलेंटीना अपनी इस बेजोड़ प्लानिंग का पूरा क्रेडिट अपने माता-पिता को देती हैं।

लंदन में ही पली बढ़ी वैलेंटीना हैडोम ने 13 साल की उम्र में काम करना शुरू कर दिया था। वे जिस तरह की कॉमिक्स पढ़ती थीं, उसी कंटेंट को लिखती भी थीं और ऑनलाइन पब्लिश करवाती थीं। इस काम से उन्हें जो पैसे मिलते थे, वो उन्होंने अपनी मां को सेव करने के लिए दिए। 16 साल की उम्र में उन्होंने McDonald’s और Primark में स्कूल के साथ पार्ट टाइम नौकरी भी कर ली। उन्हें कॉमिक से रेवेन्यू मिल रहा था और नौकरी से पैसे। इतना ही नहीं उन्होंने अपने पैसे Domino’s Pizza और कुछ टेक कंपनियों में निवेश भी किया। कहां वो पहले डेंटिस्ट बनना चाहती थीं और कहां उन्होंने बिजनेस की राह पकड़ ली, ताकि वो जल्दी ही पैसे कमा सकें।

ये भी पढ़ेंः जेल में बंद 218 मुस्लिम कैदियों ने विधि विधान से नवरात्रि व्रत रख पेश की सांप्रयादिक सौहार्द की मिसाल

वैलेंटीना के हर कदम पर उनके माता-पिता ने सहयोग किया और उनके पैसों को सही जगह पर इनवेस्ट कराया। वैलेंटीना बाकी बच्चों की तरह मेकअप और कपड़ों पर अपने पैसे नहीं खर्च करती थीं। यही वजह है कि 18 साल की उम्र में ही उन्होंने अपने जमा किए हुए 19 लाख से भी ज्यादा रुपयों से घर खरीदा। उन्हें एक स्कीम के तहत 5 साल के फिक्स रेट पर लोन मिल गया। अब वे एबी वुड में अपना 2 बेडरूम वाला फ्लैट खरीद चुकी हैं और उनकी इस कामयाबी से उनके माता-पिता भी काफी खुश हैं।