उत्तर प्रदेश के आगरा शहर से शादी का एक ऐसा मामला प्रकाश में आया है जिसके बारे में जाकर लोग हैरान हो रहे हैं। जी हां, शादी में सात फेरे के बाद मांग भरते समय दुल्हन ने दूल्हे के हाथों की कटी उंगली देखकर शुक्रवार की रात शादी करने से इनकार कर दिया। इसके बाद मामला थाने में पहुंचा। जहां वर पक्ष का कहना था कि शादी हो चुकी है। अब दुल्हन का इनकार करना बेमानी है। थाने में ही दोनों पक्षों के बीच पंचायत भी हुई, लेकिन बात नहीं बनी। आखिरकार दूल्हे को बिना दुल्हन के बैरंग वापस लौटना पड़ा।

यह भी पढ़े : VASTU TIPS: घर में आईना लगवाते समय उसकी दिशा का विशेष ख्याल रखें, इस दिशा में लगाने से बचें


ऐसा बताया गया है कि गाजियाबाद के भूपपुरा कुटी के युवक का रिश्ता आगरा के जैतपुर में तय हुआ था। शुक्रवार शाम जैतपुर बरात आई थी। रस्मों के बाद वरमाला का कार्यक्रम हुआ। बरात की खातिरदारी हुई। रात में दूल्हा-दुल्हन ने सात फेरे भी ले लिए। विदाई से पहले दुल्हन की मांग भराई की रस्म हो रही थी। बताया गया है कि जैसे ही मांग भरने के लिए दूल्हे ने हाथ में सिंदूर लिया। दूल्हे की एक हाथ की कटी तर्जनी अंगुली पर दुल्हन की नजर पड़ गई तो उसने दूल्हे के साथ शादी से इनकार कर दिया। दुल्हन के इस फैसले से सभी हैरान रह गए। दुल्हन के शादी से इनकार करने के बाद बात न बनने पर दूल्हा पक्ष थाने पहुंचा।

यह भी पढ़े : Jahangirpuri Iftar Party: जहांगीरपुरी में हिंदुओं और मुसलमानों में दिखा शांति और सौहार्द, आज दोनों समुदाय करेंगे इफ्तार पार्टी

शनिवार को सुलह के लिए पंचायत चली, लेकिन दुल्हन अपनी जिद के आगे किसी की भी बात सुनने के लिए तैयार नहीं हुई। काफी देर तक दोनों ओर को लोगों में बातचीत चली, लेकिन बात नहीं बनी और अंत में दूल्हे को बिना दुल्हन के ही वापस लौटना पड़ा।