दबंग गर्ल के नाम से मशहूर कुश्ती पहलवान खिलाड़ी बबीता फोगाट ने केसरी पहलवान विवेक सुहाग के साथ शादी रचा ली है। लेकिन इसमें सबसे आश्चर्य वाली बात ये है इन दोनों ने अपनी शादी के दौरान 7 फेरों की बजाय आठ फेरे लिए। इसके पीछे उनका मकसद ‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’ संदेश को लोगों तक पहुंचाना था।

इतना ही नहीं बल्कि बबीता की शादी बिना दान-दहेज और साधारण रीति-रिवाज तथा तमाम हिंदू रिति रिवाजों के साथ संपन्न हुई। शादी की बारात में सिर्फ 21 लोग ही आए। शादी के बाद आज दिल्ली में एक कार्यक्रम रखा गया है। 

आपको बता दें कि बबीता फोगाट ने विश्व स्तर पर देश का नाम रोशन किया है। लेकिन उन्होंने अपनी शादी बेहद साधारण तरीके से कराई। बबीता ने 2014 और 2018 की कॉमनवेल्थ गोल्ड जीते थे। इसके बाद उनके पिता और द्रोणाचार्य अवॉर्डी महाबीर फोगाट ने उनका रिश्ता केवल 1 रुपये में तय किया था।

इस शादी समारोह में परिवार के अलावा कई विदेशी पहलवान भी मौजूद थे। दूल्हे विवेक और शादी में आए मेहमानों के लिए खास तौर पर हरियाणवी देसी खाना तैयार कराया गया जिसमें देशी घी का हलवा, सरसों का साग, खीर-चूरमा, बाजरा रोटी, चटनी सहित सभी व्यंजन थे। 

बबीता की करीब 5 साल से दिल्ली के नजफगढ़ के विवेक सुहाग से दोस्ती थी जो दोस्ती प्यार में बदल गई। इसके बाद दोनों ने अपने-अपने परिवार से रिश्ते को लेकर बात की और शादी करने की इच्छा जताई। इसी साल दो जून को दोनों के परिवारों ने इस रिश्ते को मंजूरी दे दी थी और अब शादी रचा ली है।

आज दिल्ली में दूल्हा व दुल्हन पक्ष की तरफ एक कार्यक्रम रखा गया है जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, केंद्रीय मंत्रियों के आलवा मुख्यमंत्री मनोहर लाल सहित अनेक नेताओं, देशी और विदेशी पहलवानों के आने की उम्मीद है।  आपको बता दें कि बबीता फोगाट ने हाल में हरियाणा विधानसभा में भी हिस्सा लिया था, लेकिन बीजेपी के टिकट पर हरियाणा की दादरी सीट से हार गईं।