बीते कुछ सालों में हमारे देश में सौंदर्य प्रतियोगिताओं को लेकर युवा लड़कियों का क्रेज़ काफी बढ़ा है। हालांकि विदेशों में इस तरह की प्रतियोगिताएं काफी पहले से प्रचलित रही हैं। इन प्रतियोगिताओं के साथ-साथ कॉस्मेटिक्स और मेकअप का भी चलन बढ़ा है। इस तरह की सोच पर इंग्लैंड की एक लड़की ने प्रहार करते हुए सौंदर्य प्रतियोगिता में बिना किसी मेकअप के हिस्सा लेने का फैसला किया है।

ये भी पढ़ेंः अतरंगी कपड़ों के बाद इस बार बिना कपड़ों के नजर आईं उर्फी जावेद, फोटोज देखकर चकरा जाएगी आंखें


आपको ये सुनकर ही हैरानी होगी कि मिस इंग्लैंड जैसे नेशनल ब्यूटी पेजेंट में हिस्सा लेने के लिए लड़की अपनी कुदरती त्वचा और सादे चेहरे के साथ पहुंची। 20 साल की मेलिसा राउफ मिस इंग्लैंड जैसे ब्यूटी पेजेंट में बिना किसी मेकअप के हिस्सा लेने जा रही हैं। उनके इस कदम की हर तरफ तारीफ हो रही है।

लंदन की रहने वाली मेलिसा राउफ राजनीति की छात्रा हैं। उन्होंने इस साल मिस इंग्लैंड की प्रतियोगिता में बिना मेकअप के जाने का फैसला लिया। इस ब्यूटी पेजेंट के 94 साल के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है कि कोई प्रतियोगी बिना मेकअप के यहां पहुंचा हो। Angie Beasly की ओर से हर साल आयोजित होने वाले इस ईवेंट में हज़ारों महिलाएं एप्लाई करती हैं। साल 2019 में प्रतियोगिता के दौरान बिना मेकअप का एक राउंड आयोजित किया गया, लेकिन मेलिसा पूरे ईवेंट में ही बिना मेकअप के रहेंगी।

ये भी पढ़ेंः करण कुंद्रा और तेजस्वी प्रकाश ने सरेआम किया किस, वीडियो हो रहा वायरल


20 साल की मेलिसा का कहना है कि वो इस तरह से आंतरिक खूबसूरती को बढ़ावा देना चाहती हैं और खूबसूरती के मानदंडों को चुनौती देना चाहती हैं। द इंडिपेंडेंट के मुताबिक मेलिसा का कहना है कि वे इस सोच को बदलना चाहती हैं, जहां महिलाएं सुंदर दिखने के लिए मेकअप करने को बाध्य हैं। ऑर्गनाइज़र्स को भी उनकी ये सोच पसंद आई। 17 अक्टूबर को वे 40 और महिलाओं के साथ बिना मेकअप के मिस इंग्लैंड क्राउन के लिए चुनौती देंगी।