लोगों जब ऊपर वाले किसी तरह की गुजारिश करते हैं और रहमतों के बाद वह दुआ कबूल हो जाती है तो इंसान भगवान का शुक्रिया करने के लिए तरह तरह की चीजें करते हैं। गरीबों की मदद करते हैं, मंदिरों में दान देते हैं इसी के साथ मंदिरों में कई तरह की चीजें सोना या कोई वस्तु दान करते हैं। इसी तरह से एक शख्स ने मंदिर में चांदी का अफीम का पौधा का चढ़ावा चढ़ाया है।   


दरअसल, राजस्थान के भीलवाड़ा जिले में भगवान सिंगोली श्याम को उनके एक भक्त ने अच्छी अफीम की फसल होने पर चांदी से बना अफीम का पौधा बनाकर भेंट स्वरूप चढ़ाया है। मेवाड़ में भगवान सांवरिया सेठ, गढ़बोर चारभुजा नाथ, कोटडी चारभुजा नाथ और सिंगोली चारभुजा नाथ मंदिर की बड़ी मान्यता है। इन मंदिरों पर भगवान को भक्त तरह-तरह की भेंट चढ़ाते हैं।
इस बार सिंगोली के चारभुजा नाथ मंदिर में एक भक्त ने अपनी मन्नत पूरी होने पर डेढ़ किलो चांदी से बना अफीम का पौधा चढ़ाया है। चांदी से बने अफीम का पौधा चढ़ाने वाला वक्त मध्य प्रदेश के सुजानपुरा गांव का रहने वाला है और खेती-बाड़ी करता है। उसने इस बार अफीम की खेती की और भगवान सिंगोली चारभुजा नाथ से अच्छे उत्पादन की मन्नत मांगी थी।

यह भी पढ़ें- भाजपा सांसद रेबती ने प्रद्योत पर चलाई गोली, क्षेत्रों में हिंसा के लिए TIPRA Motha को ठहराया जिम्मेदार

भक्त जय लाल धाकड़ ने मन्नत मांगी थी कि अगर इस बार फसल अच्छी होगी तो वह मंदिर में चांदी से बना अफीम का पौधा चढ़ाएगा। सिंगोली श्याम मंदिर के व्यवस्थापक अर्जुन सिंह ने बताया किसान जय लाल धाकड़ ने पहले मंदिर में पूछा-अर्चना की। फिर भेंट स्वरूप भगवान को चांदी से बना अफीम का पौधा चढ़ाया।