ऐसा कहा जाता है कि कर्ज में डूबे इंसान की जिंदगी बहुत निराशा भरी हो जाती है। वो जितना कमाता है, उसमें से ज्यादातर हिस्सा कर्ज में चुका देता है। ऐसा ही स्लोवेनिया की एक महिला के साथ भी हुआ जो कर्ज में ऐसा डूबी की उसे चुकाने के लिए पैसे देने के रास्ते तलाशने लगे। महिला ने ऐसा रास्ता चुना की उसे जेल हो गई। मगर अब वो चर्चा में दोबारा आ गई है क्योंकि उसे जेल से आजादी मिल गई है और वो सोशल मीडिया पर अच्छे कर्मों की बातें कर रही है!

ये भी पढ़ेंः कोलकाता में छह ठिकानों पर ED ने मारा छापा, अब तक 7 करोड़ रुपये बरामद

बीबीसी की एक रिपोर्ट के अनुसार साल 2019 में स्लोवेनिया की एक 22 साल की महिला जुलिजा एडलेसिक को Ljubljana शहर से गिरफ्तार किया गया था क्योंकि उनके ऊपर एक इंश्योरेंस फ्रॉड करने का आरोप था। जुलिजा के नाम पर करीब 8 करोड़ रुपयों की 5 इंश्योरेंस पॉलिसी थीं। डेली स्टार की रिपोर्ट के अनुसार वो काफी कर्ज में थीं मगर उनके पास चुकाने के लिए पैसे नहीं थे। इसलिए उनके बॉयफ्रेंड सेबैशियन एब्रामोव ने अपने माता-पिता के साथ मिलकर एक प्लान बनाया।

उन लोगों ने इंश्योरेंस की रकम हासिल करने के लिए जुलिजा को हाथ काटने का आइडिया दिया। बीमा के नियमों के अनुसार अगर जुलिजा काम करने में असमर्थ हो जाती हैं तो उन्हें इंश्योरेंस की एक बड़ी धनराशि पूरी मिल जाएगी और बाकी के रुपये थोड़े-थोड़े अमाउंट में हर महीने मिलेंगे। महिला ने अपने से ही अपने एक हाथ को कलाई के थोड़ा ऊपर आरी से काट लिया। जब वो अस्पताल पहुंचे तो अपने साथ कटा हुआ हाथ भी नहीं लेकर गए जिससे अस्पताल वाले उसे फिर से ना जोड़ सकें, हालांकि, डॉक्टरों को हाथ वक्त पर मिल गया और उन्होंने उसे जोड़ दिया। इसके बाद महिला की जांच हुई तो उसपर आरोप लगा कि उसने जानबूझकर हाथ काटा। बॉयफ्रेंड की इंटरनेट सर्च हिस्ट्री से पता चला कि वो कुछ दिनों से प्रॉस्थेटिक हाथों के बारे में नेट पर सर्च कर रहा था।

ये भी पढ़ेंः अभी नहीं गया है मानसून, मौसम विभाग ने दी बड़ी चेतावनी, यहां होगी मूसलाधार बारिश

पिछले साल सितंबर में उनका मामला पूरा हुआ और उन्हें सजा सुनाई गई मगर उससे पहले भी वो इसी अपराध में सजा काट रही थीं। उन्होंने कोर्ट में बताया कि वो पेड़ की डाल काट रही थीं तब उनका हाथ कटा। पूरे ट्रायल के दौरान उन्होंने गलती मानी ही नहीं। मगर पिछले साल उन्होंने अपने अपराध को माना और सजा कम करने की मांग की। बॉयफ्रेंड को 2 साल और 5 महीनों के लिए जेल में डाला गया। पहली सुनवाई में महिला की सजा 3 साल की थी मगर दूसरी में जज ने कम कर उसे आधा कर दिया। अब वो आजाद हो चुकी है और सोशल मीडिया पर फोटोज पोस्ट कर रही है। फोटोज वो अपने हाथ छुपाए हुए है इसलिए अंदाजा लगाया जा रहा है कि उसकी सर्जरी सफल नहीं हो पाई थी।