दुनिया में कई ऐसे अद्भुत जगहें हैं जिनके बारे में कुछ ही लोग जानते हैं। वहां कोई जाना आना भी पसंद नही करता है। क्योंकि वहां जाना मतलब मौत से मुकाबला करना है। कुछ जगहें तो इतनी खतरनाक है कि यहां पहुंचने वाला कभी जिंदा वापस नहीं आता है। इसी तरह एक सड़क ऐसी है जो सीधा मौत के घर लेकर जाती है। एक ऐसा हाइवे जो दुनिया का आखिरी हाइवे माना जाता है। यहां जाने वाले इंसान की रूह कांप जाए। यह हाइवे उत्तरी ध्रुव की जो पृथ्वी का सबसे सुदूर उत्तरी बिंदु है। बता दें कि यह वह बिंदु है, जहां पर पृथ्वी की धुरी घूमती है।

जानकारी के लिए बता दें कि इसे नॉर्वे का आखिरी छोर भी कहा जाता है। यह दुनिया का आखिरी रास्ता यानी सड़क है। इस सड़क का नाम है ई-69 हाइवे है, जो पृथ्वी के छोर और नॉर्वे को आपस में जोड़ता है। इस सड़क के खत्म होते ही आगे सिर्फ बर्फ ही बर्फ है। साथ ही समुद्र की खतरनाक लहरें। इसमें दिलचस्प बात यह है कि ई-69 एक हाइवे जो करीब 14 किलोमीटर लंबा है और यहां अकेले पैदल चलना या गाड़ी चलाना सख्त प्रतिबंधित है। यहां किसी को आने या जाने नहीं दिया जाता है।


मजेदार बात तो यह है कि उत्तरी ध्रुव के पास होने के कारण यहां सर्दियों के मौसम में न तो रातें खत्म होती हैं और न ही गर्मियों में सूरज डूबता है। कभी-कभी तो यहां लगभग छह महीने तक सूरज दिखाई नहीं देता है। यहां सर्दियों में तापमान माइनस 43 डिग्री से माइनस 26 डिग्री सेल्सियस के नीचे होता है और गर्मियों में तापमान का औसत जमाव बिंदु जीरो डिग्री सेल्सियस के आसपास रहता है।,भयंकर ठंड पड़ने के बावजूद यहां लोग रहते हैं और इस जगह को देखने दुनियाभर से लोग उत्तरी ध्रुव घूमने के लिए आते हैं।