दुनिया में तमाम चर्च है और कई बहुत ही ज्यादा प्रसिद्ध चर्च हैं। लेकिन दुनिया का एक चर्च ऐसा भी हैं जो बहुत ही अजीब ढंग से बना हुआ है और इसकी सजावट के चर्चे हर कहीं होते हैं। एक चर्च है जिसे मानव कंकालों से सजाया गया है। यह सबसे डरावना और रहस्यमयी चर्च है। क्योंकि इस चर्च में 70 हजार नर कंकालों से सजाया गया है। इतने सारे कंकालों के देखने के लिए दुनिया भर यहां लोग आते हैं।


यहां लाखों की संख्या में पर्यटक आते हैं। सालाना इस कंकाल से बने चर्च को देखने के लिए दो लाख से भी ज्यादा लोग आते हैं। इस चर्च का नाम सेडलेक ऑस्युअरी है, जो कि चेक गणराज्य की राजधानी प्राग में स्थित है। यह चर्च कंकालो की सजावट के कारण ही  दनिया में अनोखा माना जाता है। 70 हजार लोगों की हड्डियों से इतना खुबसूरत चर्च बनाना, वाकई एक कला है।


हड्डियों से छत के झूमर, पॉल की डिजाइन और दिवारों तक कंकालों से सजाई गई है। जानकरी के लिए बता दें कि इस चर्च को 'चर्च ऑफ बोन्स' के नाम से भी जाना जाता है। बताया जाता है कि करीब 150 साल पहले यानी 1870 में इंसानी हड्डियों से इस चर्च को सजाया गया था। लेकिन क्यों सजाया गया था इसके पीछे एक बेहद ही रहस्यमयी वजह है। 14वीं सदी में 'ब्लैक डेथ' महामारी फैलने के कारण कई लोग मारे गए और कब्रिस्तान में दफन किए गए।


जब कब्रिस्तान में जगह ही नहीं बची तो 14वीं सदी के प्राग के एक राजा ने नर कंकालों को निकलवाया और चर्च में लगवा दिया। कारिगरों ने भी इस तरह से कंकालों को लगाया कि अब 21वी  सदी में यह एक बहुत ही शानदार चर्च के रूप में उभर कर सामने आया है। यह चर्च पूरी दुनिया में प्रसिद्ध हो गया है।