एक परिवार छुट्टी मनाने और साथ में कुछ वक्त बिताने के लिए घूमने (Family Trip) गया था। अपनी ट्रिप के दौरान परिवार के चार सदस्यों ने लग्जरी होटल (luxury hotel) का रूम बुक किया हुआ था। इसी दौरान एक गलती इतनी भारी पड़ गई कि एक घंटे के अंदर चारों की मौत हो गई। इसका खुलासा तब हुआ जब होटल का कर्मचारी अंदर आर्डर देने गया तो उसने आवाज लगाई और किसी ने नहीं सुना। इसके बाद जब वह अंदर गया तो वहां चारों की लाश पड़ी हुई थी।

दरअसल, यह घटना रूस के एक परिवार के साथ हुई है। 'मेट्रो' की एक ऑनलाइन रिपोर्ट के मुताबिक, मास्को (Moscow) का रहने वाला साठ साल का एक शख्स अपने परिवार के साथ छुट्टियां मनाने अलबेनिया गया हुआ था। इस दौरान उनके साथ उनकी पत्नी, बेटी और बेटी की दोस्त भी वहां गई हुई थी। अलबेनिया पहुंचते ही इन सभी लोगों ने मिलकर एक लग्जरी होटल में कमरा बुक किया। यह एक सौना रूम (sauna room) था, सौना रूम एक ऐसा रूम होता है जो काफी आरामदायक होता है, यह ऑटोमेटिक मसाज भी देता है।

जब पूरा परिवार उस रूम में पहुंचा तो वे सब काफी खुश थे क्योंकि वे पहली बार इस सुविधा वाले रूम में गए हुए थे। कुछ देर बाद उन सभी ने कुछ आर्डर किया और उसे एक घंटे में लाने के लिए कहा। इसी दौरान सभी ने रूम बंद कर लिया और आपस में बातचीत करने लगे। थोड़ी ही देर में उनका दम घुटने लगा और उनका दम इतनी तेजी से घुटा कि चारों की ही मौत मौके पर हो गई।

जब होटल का कर्मचारी उनका आर्डर लेकर पहुंचा तो उसने आवाज लगाई लेकिन अंदर से किसी ने जवाब नहीं दिया। कर्मचारी जब खुद दरवाजा खोलकर अंदर गया तो उसके होश उड़ गए। उसने देखा कि चारों की मौत हो चुकी है। उसने तत्काल होटल प्रशासन को सूचना दी और पुलिस को भी मौके पर बुलाया गया।

शुरूआती जांच में पुलिस ने पाया कि जिस सौना रूम में पूरा परिवार ठहरा हुआ था, उसका वेंटिलेशन सिस्टम ठीक से काम नहीं कर रहा था और उसे उन लोगों ने चेक नहीं किया। रिपोर्ट में इस बात का भी जिक्र है कि इस पूरे परिवार को होटल में पहुंचे हुए सिर्फ एक घंटे ही हुए थे और उन चारों की मौत हो गई। फिलहाल पुलिस जांच कर रही है।