पीपुल फॉर द एथिकल ट्रीटमेंट ऑफ एनिमल्स इंडिया ने शादियों में घोड़ों को नियंत्रित करने के लिए नुकीले टुकड़ों का उपयोग करने की क्रूर प्रथा के लिए जनता को जागरुक करना शुरू कर दिया।  साथ ही जानवरों को पीडि़त करने से बचने का आग्रह किया है।  इसके लिए पेटा ने लखनऊ, चंडीगढ़, दिल्ली, जयपुर और मुंबई में होर्डिंग भी लगाए हैं। 

बता दें हाल ही में कॉमेडी एक्टर राजू श्रीवास्तव ने एक वीडियो में शादियों और अन्य समारोहों के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले घोड़ों की पीड़ा पर प्रकाश डाला था।  पेटा इंडिया की सीनियर कैंपेन कोऑर्डिनेटर, राधिका सूर्यवंशी ने कहा कि नुकीले टुकड़े यातना देने वाले उपकरण हैं जो घोड़ों को जीवन भर घायल और आघात पहुंचा सकते हैं।  ड्रफ्ट एंड पैक एनिमल्स रूल्स 1965 के तहत क्रूरता की रोकथाम के लिए नुकीले बिट्स के उपयोग प्रतिबंधित है।