मैने पैसा या लूटने के लिए उसका गला नहीं काटा, बल्कि साहस एवं आत्म विश्वास बढ़ाने के लिए ही उसका गला रेता, ताकि मुझमें हत्या करने का साहस बढ़े और मैं एक कुख्यात हाई-वे डकैत एवं वाहन चोर बन सकूं। यह बातें बुधवार को जेल जाने से पूर्व हत्या के प्रयास का आरोपी हेकमत अली(19) ने कही।

आरोपी के अनुसार गत 24 जुलाई की संध्या अंधेरे का फायदा उठाकर खारुपेटिया थाने के अंतर्गत हांसीमुली गांव हेकमत अली ने उसी गांव के रकीबुल हुसैन(13) नामक एक किशोर को एक पेड़ के नीचे ले गया और एक अन्य 11 वर्ष के किशोर को उसका गला रेत कर हत्या करने का प्रशिक्षण देने लगा।

धारदार हथियार से लगभग एक चौथाई गला काटे जाने के बाद रकीबूल को छोड़ कर दोनों भाग गए। इस बीच घटना की खबर पूरे क्षेत्र में फैल गई। तत्काल पुलिस को सूचित किया गया और पुलिस ने गंभीर अवस्था में रकीबुल को मंगलदै सरकारी चिकित्सालय में भेजा, जहां से उसे गुवाहाटी स्थित जीएमसीएच रेफर कर दिया गया।

इस घटना को लेकर पूरे क्षेत्र में सनसनी फैल गई है। पुलिस ने आज मुख्य आरोपी हेकमत अली को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। आरोपी ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया है।