चीन में होने वाली शादियों में एक अलग तरह का रस्म निभाई जाती है। यह परंपरा एक लंबे समय से चली आ रही है, जिसमें दुल्हन के साथ छेड़खानी की जाती है। इस रस्म को 'बा-कायदा' रस्म कहते हैं। इस रस्म में दुल्हा-दुल्हन के साथ मजाकिया अंदाज में छेड़खानी करता है। चीन में मॉडर्न वेस्टर्न स्टाइल में जो शादियां होती है, उसमें दुल्हा-दुल्हन के साथ उनकी सखियां भी छेड़खानी और हंसी-मजाक करती हैं।

यह रस्म काफी पुरानी है और सदियों से यह चली आ रही है। पहले के समय में इस रस्म को कुछ अलग तरह से किया जाता था। लेकिन, अब बदलते समय में इस रस्म को सिर्फ मजाक के लिए किया जाता है। शादी में आए मेहमान इस रस्म को देखने के लिए काफी उत्साहित रहते हैं।

चीन के एक जिले में इस रस्म से जुड़ा एक फॉक सान्ग भी है, जिसे इस तरह से गाया गया है कि 'पहले उसके हाथों को देखों फिर उसके पैरों को निहारो तब कहीं जाकर उसको नजर भर निहारों।' इस तरह से इस गाने को चीनी भाषा में गाया गया है।

इस रस्म के इतिहास के बारे में बढ़े-बुजुर्ग और जानकार बताते हैं कि पुराने जमाने में चीन के लोगों की शादी कम उम्र में हो जाती थी। जिस वजह से उन्हें सेक्स (Sex) के बारे में इस रस्म के दौरान बताया जाता था। लेकिन आज के समय में ऐसा कुछ नहीं है, इसे परंपरा को सिर्फ निभाने के लिए किया जाता है।

द इकोनॉमिस्ट की रिपोर्ट के अनुसार, दुल्हा-दुल्हन को बंधे हाथों से 'सेब खाने को देना' इसी रस्म का हिस्सा है। इस रस्म से पहले दुल्हे के परिवार से कॉन्ट्रेक्ट साइन करवा लिया जाता है। जिसमें लिखा होता है कि बिना लड़की की इजाजत के आप उसे छू नहीं सकते हैं और न आप उसे ड्रिंक पिलाने के लिए जबरदस्ती कर सकते हैं।