दुनिया में ऐसे कई होटल हैं, जो अपने आप में काफी अनोखे और खूबसूरत हैं और साथ ही आलीशान भी। लेकिन क्या कभी आपने किसी ऐसे होटल के बारे में सुना है, जहां बिस्तर पर महज करवट बदलने से लोग एक देश से दूसरे देश में चले जाते हैं? जी हां, यह कोई मजाक नहीं बल्कि हकीकत है। इस होटल का नाम अर्बेज होटल है।


इस होटल को अर्बेज फ्रांको-सुइसे होटल के नाम से भी जाना जाता है। यह होटल फ्रांस और स्विट्जरलैंड की सीमा पर ला क्योर इलाके में स्थित है। यह होटल दोनों देशों में आता है, इसलिए इस होटल के दो-दो पते (एड्रेस) हैं।इस होटल की खास बात ये है कि फ्रांस और स्विट्जरलैंड की सीमा इस होटल के बीचों-बीच से गुजरती है। इस होटल के अंदर जाते ही लोग एक देश से दूसरे देश में पहुंच जाते हैं।


अर्बेज होटल का विभाजन दोनों देशों की सीमा को ध्यान में रखकर किया गया है। आपको जानकर हैरानी होगी कि इस होटल का बार स्विट्जरलैंड में पड़ता है तो बाथरूम फ्रांस में है। इस होटल में सभी कमरों को दो हिस्सों में बांटा गया है। कमरों में डबल बेड कुछ इस तरह सजाए गए हैं कि ये आधे फ्रांस में तो आधे स्विट्जरलैंड में हैं। साथ ही कमरों में तकिए भी दोनों देशों के हिसाब से अलग-अलग लगाए गए हैं।


यह होटल जिस जगह पर बना है, वो साल 1862 में अस्तित्व में आया था। पहले यहां एक किराने की दुकान हुआ करती थी। बाद में साल 1921 में जूल्स-जीन अर्बेजे नामक शख्स ने इस जगह को खरीद लिया और यहां होटल बना दिया। अब यह होटल फ्रांस और स्विट्जरलैंड दोनों देशों की पहचान बन चुका है।