Amul को चीन के खिलाफ कैंपेन चलाना भारी पड़ गया। इसकी वजह से अमूल के ट्विटर अकाउंट को माइक्रो-ब्लॉगिंग वेबसाइट ट्विटर ने ब्लॉक कर दिया। हालांकि, बाद कुछ देर बाद ट्विटर ने वापस अकाउंट को अनब्लॉक कर दिया है। अमूल लगातार अपने ऐड में चीन के खिलाफ कैंपेन चला रहा था। देश में डेयरी प्रोडक्ट की बड़ी कंपनी अमूल का ट्विटर अकाउंट एक मेसेज के साथ दिख रहा था।
देश के सबसे बड़े फूड ब्रैंड अमूल की मार्केटिंग गुजरात को-ऑपरेटिव मिल्क मार्केटिंग फेडरेशन द्वारा की जाती है। बिना किसी सूचना के अमूल के ट्विटर अकाउंट पर कॉशन अलर्ट (चेतावनी) दिखने से GCMMF को भी काफी हैरानी हुई। अमूल का ट्विटर अकाउंट ब्लॉक होते ही ट्विटर यूजर्स के बीच यह बड़ा मुद्दा बन गया। यूजर्स ने अकाउंट ब्लॉक को अमूल के लेटेस्ट क्रिएटिव कैंपेन ‘Exit the Dragon?’ से जोड़ा। यह कैंपेन अमूल ने चीनी प्रोडक्ट्स का बहिष्कार को सपॉर्ट करने के लिए चलाया था।
लेटेस्ट अमूल टॉपिकल में रेड और वाइट ड्रेस पहनी आइकॉनिक अमूल गर्ल को अपने देश को एक ड्रैगन से लड़कर बचाते हुए दिखाया गया। इसके पीछे चीनी विडियो-शेयरिंग मोबाइल ऐप्लिकेशन TikTok का लोगो भी देखा जा सकता है। इसके अलावा इस ऐड में बड़े-बड़े अक्षरों में लिखा है कि अमूल 'Made In India' ब्रैंड है और इसका फोकस पीएम नरेंद्र मोदी की 'आत्मनिर्भर' मुहिम पर है।
ट्विटर पर अमूल का अकाउंट खोलने मेसेज दिखा, '(सावधान: यह अकाउंट अस्थाई तौर पर ब्लॉक है। आप यह मेसेज इसलिए देख रहे हैं क्योंकि इस अकाउंट से कुछ असामान्य ऐक्टिविटी की गई है। क्या आप अभी भी यह अकाउंट व्यू करना चाहते हैं।'
अभी तक ट्विटर की तरफ से यह प्रतिक्रिया नहीं मिली है कि आखिर अमूल का ट्विटर अकाउंट क्यों ब्लॉक किया गया। GCMMF के मैनेजिंग डायरेक्टर आर एस सोढ़ी ने कहा, 'हमने ट्विटर से पूछा है कि आखिर इस तरह ब्लॉक करने से पहले हमें जानकारी क्यों नहीं दी गई। उन्हें हमें सूचित करना चाहिए था।' अभी ट्विटर द्वारा इस पूरी कार्रवाई पर प्रतिक्रिया का इंतजार है।