भाजपा के दो जिला स्तर के नेताओं की अर्धनग्न तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो गई है। दोनों नेता पार्टी की यूथ विंग से जुड़े हुए हैं। धुबरी जिले की यूनिट ने तत्काल प्रभाव से दोनों नेताओं को सस्पेंड कर दिया है। इन नेताओं की पहचान विश्वजीत दास और सोमनाथ बानिक के रूप में हुई है। विश्वनाथ दास भाजपा युवा मोर्चा की धुबरी जिला ईकाई के महासचिव हैं जबकि सोमनाथ भाजयुमो की धुबरी टाउन कमेटी के मंडल अध्यक्ष हैं।

कहा जा रहा है कि इन्होंने ही अपनी सेमी न्यूड तस्वीरें सोशल नेटवर्किंग साइटों पर शेयर की थी। तस्वीरों को पहले फेसबुक पर शेयर किया गया। बाद में ये अलग अलग व्हाट्सएप ग्रुप्स पर वायरल हो गई। पार्टी सूत्रों ने खुलासा किया है कि तस्वीरें 30 जुलाई को सोमनाथ बानिक के पर्सनल फेसबुक अकाउंट से शेयर की गई। हालांकि धुबरी पुलिस को दी गई संयुक्त लिखित शिकायत में विश्वनाथ दास और सोमनाथ ने आरोप लगाया कि किसी ने सोमनाथ का फेसबुक अकाउंट हैक कर लिया और उनकी छवि खराब करने के मकसद से तस्वीरें फेसबुक पर अपलोड कर दी।

धुबरी के एएसपी जी.डेका ने बताया कि सोमनाथ और विश्वनाथ की ओर से संयुक्त रूप से दर्ज कराई गई शिकायत के आधार पर आईटी एक्ट की धारा 66(ई) के तहत एफआईआर दर्ज की गई है। आगे की जांच जारी है। अभी तक इस मामले में किसी की गिरफ्तारी नहीं हो पाई है। साइबर सेल मामले की जांच कर रही है। हालांकि धुबरी की भाजपा की जिलाई ईकाई के अध्यक्ष दीपक साहा ने कहा कि खबर के बारे में सुनने के तुरंत बाद दोनों नेताओं को सस्पेंड कर दिया गया।

पार्टी ने धुबरी पुलिस से मामले की जल्द से जल्द जांच पूरी करने और इस घृणित अपराध में शामिल दोषियों को दंडित करने का अनुरोध किया है। बकौल दीपक साहा, सोशल मीडिया पर उसकी तस्वीरों के संबंध में हमें कुछ नहीं कहना। भाजपा के पार्टी सदस्य होने के नाते प्रत्येक का चरित्र स्वच्छ होना चाहिए। मौजूदा परिस्थितियों में दोनों नेताओं में इसकी कमी पाई गई। जब तक पुलिस की जांच पूरी नहीं हो जाती तब तक दोनों नेता पार्टी से सस्पेंड रहेंगे।