आप हर दिन अखबार में शादी का विज्ञापन देखते होंगे।  अगर आपने इन विज्ञापनों को कभी पढऩे की कोशिश की होगी तो आपको पता होगा कि लोग विज्ञापन में गोरी, घरेलू और सुंदर लड़की चाहिए जैसी बातें लिखते हैं, लेकिन आज हम आपको एक ऐसा विज्ञापन दिखाने जा रहे हैं, जो इन दिनों सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है।  दरअसल, एक शख्स को पत्नी के रूप में एक ऐसी लड़की की तलाश है जो सोशल मीडिया की लती या आदी ना हो। 

यह विज्ञापन अपने अनोखे मांग की वह से चर्चा में है।  इस समय या इस उम्र में यह मांग इसलिए भी असामान्य है क्योंकि ज्यादातर लोग कम से कम एक सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का उपयोग जरूर करते हैं।  इस विज्ञापन को पश्चिम बंगाल के 37 वर्षीय वकील ने अखबार में प्रकाशित करवाया है।  इस विज्ञापन की तस्वीर को इस शनिवार को आईएएस अधिकारी नितिन सांगवान द्वारा ट्विटर पर साझा कई गई।  उन्होंने इसे पोस्ट करते हुए लिखा कि मैच मेकिंग के मापदंड अब बदल रहे हैं। 

विज्ञापन में एक भावी दुल्हन की तलाश में पश्चिम बंगाल के एक गांव कमरपुकुर का एक आदमी अपनी उम्र, व्यवसाय, घर का पता लिखने के बाद कहता है, दहेज की कोई डिमांड नहीं, सुंदर, लंबी, पतली दुल्हन चाहिए।  दुल्हन को सोशल मीडिया का लती नहीं होना चाहिए। 

आईएएस नितिन सांगवान ने इसे साझा करते हुए लिखा, भावी दुल्हन / दूल्हे कृपया ध्यान दें, मैचमेकिंग मानदंड बदल रहे हैं।  ट्विटर पर इस विज्ञापन को लेकर जबरदस्त प्रतिक्रियाएं आई हैं। सोशल मीडिया की दीवानी नहीं होने वाली दुल्हन की मांग ने कई लोगों को हैरत में डाल दिया है। 

भारत में शादी करने वाले उम्र में ज्यादातर लोग फेसबुक, इंस्टाग्राम या ट्विटर का उपयोग कर रहे हैं।  कुछ ट्विटर यूजर्स ने कहा कि क्या यह विज्ञापन मजाक है? कुछ लोगों ने अपनी अवास्तविक मांग वाले भावी दूल्हे को शुभकामनाएं दीं।