हाल ही में मुर्गों की लड़ाई की एक ऐसी घटना सामने आई है जिसकी वजह से 19 लोगों की लाशें बिछ गई। यह घटना मेक्सिको के मिचोआकन स्टेट की है। अचानक हुई वारदात से पूरे शहर में सनसनी फैल गई। मुर्गों की लड़ाई के एक अवैध कंप्‍टीशन के दौरान कुछ बंदूकधारियों ने गन लहराते हुए वहां मौजूद लोगों को गोलियों से भून डाला। इस हमले का मकसद अभी तक साफ नहीं हुआ है लेकिन माना जा रहा है कि रविवार रात को हुई इस वारदात को गैंगवार के चक्कर में अंजाम दिया गया।

यह भी पढ़ें : जबरदस्त एक्शन में आए N Biren Singh, पाकिस्तान की बात पर महबूबा मुफ्ती को ऐसे लिया आड़े हाथ

मैक्सिको के इस इलाके में कई अपराधिक गिरोह सक्रिय हैं जो दूसरे गैंग वालों पर आए दिन हमला करते हैं। बीते कुछ महीनों में, मेक्सिको में ऐसी वारदातों में इजाफा हुआ है जब बंदूकधारियों ने पार्क, बार और क्लबों पर हमला करके अपना बदला पूरा किया। इस दौरान कई बेगुनाह लोगों को भी अपनी जान से हाथ धोना पड़ा।

मिचोआकन के सार्वजनिक सुरक्षा अधिकारी ने कहा कि इस हिंसा में शामिल आरोपियों को गिरफ्तार करने के लिए जगह-जगह दबिश दी जा रही है। मिचोआकेन और उसका पड़ोसी राज्य गुआनाजुआतो मेक्सिको के 2 सबसे हिंसक राज्य हैं। यहां नशीली दवाओं की तस्करी और चोरी के तेल की बिक्री जैसे कई गैर कानूनी काम होते हैं। इसमें शामिल गिरोहों के बीच अक्सर गैंगवार की घटनाएं सामने आती रहती हैं।

यह भी पढ़ें : N Biren Singh ने जो कहा वो कर दिखाया! खोंगसांग रेलवे स्टेशन तक चला दी मालगाड़ी, देखें वीडियो

फरवरी में इसी राज्य में फायरिंग की एक वारदात में 17 लोगों की मौत हो गई थी। मिचोआकन के मंत्री रिकार्डो मेजिया ने बताया था कि फायरिंग की इस घटना को जलिस्को न्यू जेनरेशन कार्टेल के एक सेल ने दूसरे सेल के खिलाफ बदला लेने के लिए अंजाम दिया था। मेक्सिको में 2006 से ड्रग कार्टेल से जुड़ी हिंसा की घटनाएं सामने आ रही हैं। आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक तब से अब तक 3 लाख 40 हजार से ज्यादा हत्याएं हो चुकी हैं। इनमें से ज्यादातर की मौत गैंगवार के दौरान हुई फायरिंग में हुई है। इस महीने की शुरुआत में सेंट्रल मेक्सिको के एक घर पर हुए हमले में कुछ अज्ञात बंदूकधारियों ने 9 लोगों की हत्या कर दी थी।