पुणे (Pune) में बाहर से आने वाले यात्री एक मेट्रो स्टेशन (Metro Station) के नाम को लेकर परेशान हैं. इन यात्रियों का कहना है कि पिंपरी से स्वारगेट तक पुणे मेट्रो के कॉरिडोर वन पर एक स्टेशन का नाम भ्रमित करने वाला है और यहां से कुछ आवासीय क्षेत्र बहुत दूर स्थित हैं, जिससे उन्हें पैदल चलने के लिए मजबूर होना पड़ता है.

यह भी पढ़े : 141 दिन शनिदेव रहेंगे वक्री , इन 3 राशियों के लोग बरतें विशेष सावधानी


पिंपरी से फुगेवाड़ी तक 5 किलोमीटर लंबे रूट को पिछले सप्ताह शुरू किया गया था. “भोसरी स्टेशन” ने विशेष रूप से यात्रियों के बीच बहुत भ्रम पैदा किया है. यह स्टेशन पुणे-मुंबई राजमार्ग के साथ नासिक फाटा में स्थित है, इसे “भोसरी स्टेशन” नाम दिया गया है. भोसरी औद्योगिक शहर पिंपरी-चिंचवाड़ का एक उपनगर है और नासिक फाटा से कम से कम 5 किलोमीटर दूर स्थित है.

भोसरी के निवासी सचिन रंगदल ने कहा कि, पिछले हफ्ते पिंपरी-चिंचवड़ में मेट्रो ट्रेन में सवार उनके रिश्तेदारों को यह जानने के बाद बहुत समय, पैसा और ऊर्जा बर्बाद करनी पड़ी. हमारे रिश्तेदार पिंपरी में मेट्रो ट्रेन में सवार हुए. उन्हें बताया गया कि मेट्रो ट्रेन पिंपरी जाती है. एक स्टेशन बाद में, वे स्टेशन पर उतर गए क्योंकि साथी यात्रियों ने उन्हें बताया कि भोसरी स्टेशन आ गया है.

यह भी पढ़े : Holi with Organic Colours: अपने घर पर इन तरीकों से बनाएं प्राकृतिक रंग, स्किन को भी नहीं होगा कोई नुकसान


पतित पवन संगठन के राजेश मोटे ने कहा, ‘भोसरी स्टेशन के नामकरण पर हमने कड़ी आपत्ति जताई है, जिससे यात्रियों में भ्रम की स्थिति पैदा हो रही है. मेट्रो को यह नाम बदलना चाहिए, साथ ही उन्हें भविष्य में स्टेशनों के नामकरण में सावधानी बरतनी चाहिए. महा मेट्रो के प्रवक्ता हेमंत सोनवणे ने कहा, ‘हम भोसरी स्टेशन का नाम बदलने की सोच रहे हैं, यह जल्द ही होगा.’