देश में शादियों का सीजन आने वाला है। अगले महीने से शादियों का सीजन शुरू हो जाएगा। कोरोना काल में भी शादियां की जाएगी। वैसे तो सरकार ने शादियों में 100 लोगों को रहने का अनुमति दी है। क्योंकि कोरोना का संक्रमण ज्यादा ना फैले इसके लिए लोगों के समूह होने पर सरकार ने प्रतिबंध लगाया है। इसी बीच एक सरकार ने एक योजना शुरू की है कन्या विवाह योजना।


इस योजना के तहत लड़कियों के विवाह के लिए सरकार 40,000 रूपए देगी। लेकिन ध्यान दे कि सरकार की ऐसी किसी भी तरह की कोई  योजना नहीं है सोशल मीडिया प्लैटफार्म पर भ्रामक सूचना वायरस हुई है कि केंद्र सरकार ‘प्रधानमंत्री कन्या विवाह योजना’ के तहत बेटियों को उनके विवाह के लिए 40,000 रुपये धनराशि दे रही है। इन दोनों दावों का जब PIB ने जांच की तो सामने आया कि यह योजना फर्जी हैं। मोदी सरकार ऐसी किसी भी तरह की योजना नहीं चला रही है।  


PIB Fact Check में साफ कहा गया है कि केंद्र सरकार द्वारा ऐसी कोई योजना नहीं चलाई जा रही है। जानकारी के लिए बता दें कि PIB भारत सरकार की नीतियों, कार्यक्रम पहल और उपलब्धियों के बारे में समाचार-पत्रों व इलेक्ट्रॉ निक मीडिया को सूचना देने वाली प्रमुख एजेंसी है। बता दें कि सरकार से जुड़ी कोई खबर सच है या फर्जी, यह जानने के लिए PIB Fact Check की मदद ले सकते हैं। कोई भी व्यक्ति PIB में फर्जी चीजों के बारे में जानने के लिए [email protected] पर मेल कर सकते हैं।