कोरोना वायरस के इस मुश्किल दौर में केन्या से एक ऐसा मामला सामने आया है जो हर किसी के दिल को झकजोर कर रख देगा। यहां गरीबी से बेहाल एक मां ने चूल्हे पर पत्थर उबालने को रख दिए, ताकि भूख से रोते उसके बच्चे चुप हो जाएं।
केन्या के मोम्बासा शहर की पेनिना बहाती कित्साओ 8 बच्चों की मां हैं। वह विधवा और निरक्षर हैं। वह लोगों के कपड़े धोकर अपने परिवार का गुजारा करती थीं। लेकिन कोरोना संकट के बाद से उनकी जिंदगी बेहद मुश्किल हो गई है।
इस संकट ने उन्हें इतना गरीब बना दिया है कि उन्हें अपने भूखे बच्चों को चुप करवाने के लिए चूल्हे पर पत्थर उबालने का नाटक करना पड़ा ताकि खाने की उम्मीद और इंतजार में बच्चे सो जाएं।
केन्या के एनटीवी द्वारा इंटरव्यू किए जाने के बाद से कई लोग महिला की मदद के लिए आगे आए हैं। वह मोबाइल फोन और बैंक अकाउंट के जरिए उन्हें पैसा भेज रहे हैं।