सउदी अरब से भारत आ रही जेट एयरवेज की एक उड़ान में बीच रास्ते में एक बच्ची का जन्म हुआ। विमान उस समय समुद्र तल से 3500 फीट ऊंचाई पर था. बच्चे के जन्म से उत्साहित एयरलाइन ने उसे लाइफ टाइम ट्रैवल पास दिया है। 

जेट एयरवेज की उड़ान संख्या 9- 569 ने रविवार देर रात 2  बजकर 55 मिनट पर दम्माम से कोच्चि के लिए उड़ान भरी. बीच उड़ान में एक गर्भवती महिला को प्रसव पीड़ा शुरू हो गई और तब चालक दल के सदस्यों ने चिकित्सकीय आपात स्थिति की घोषणा की और उड़ान को मुम्बई की ओर मोड़ दिया। 

विमान 162 यात्रियों के साथ अरेबियन समुद्र के ऊपर उड़ान भर रहा था तभी विमान के केबिन क्रू ने एक पब्लिक अनोउसमेंट किया अगर विमान में कोई डॉक्टर है तो यहां आए। विमान में एक केरल की महिला नर्स यात्रा कर रही थी उसने एयरलाइन के स्टाफ के साथ मिलकर महिला की सहायता की। 

अरब सागर के ऊपर हुआ बच्चे का जन्म

विमान जब अरब सागर के ऊपर था, विमान के चालक दल के सदस्यों और केरल जा रही एक नर्स की मदद से महिला ने एक बच्चे को जन्म दिया. विमान मुम्बई में उतरा और मां एवं बच्चे को अस्पताल पहुंचाया गया। 

एअरलाइन ने दिया गिफ्ट

एयरलाइन में पहली बार किसी बच्चे के जन्म के बाद जेट एयरवेज ने कहा, हम पहली बार एयरलाइन में बच्चे के जन्म से उत्साहित हैं. हम उसे लाइफटाइम ट्रैवल का पास देते रहें है। 

90 मिनट देरी से रवाना हुआ विमान

विमान उसके बाद अपने गंतव्य कोच्चि के लिए रवाना हुआ और 90 मिनट की देरी से दोपहर 12 बजकर 45 मिनट पर वहां पहुंचा।