त्रिपुरा विश्वविद्यालय (Tripura University) ने जापानी, कोरियाई, नेपाली और मणिपुरी भाषाओं (Manipuri languages) में डिप्लोमा पाठ्यक्रम शुरू करने के लिए मानव संसाधन विकास मंत्रालय और विश्वविद्यालय अनुदान परिषद (UGC) को एक प्रस्ताव भेजा है।

त्रिपुरा विश्वविद्यालय, जो एक केंद्रीय विश्वविद्यालय है, ने MHRD और UGC से उनके प्रस्ताव को मंजूरी देने का आग्रह किया है ताकि अगले शैक्षणिक सत्र से इन चार भाषाओं में डिप्लोमा पाठ्यक्रम (Diploma courses) शुरू किया जा सके।
विश्वविद्यालय (Tripura University) ने कहा है कि वह इन भाषाओं में पाठ्यक्रम शुरू करने पर विचार कर रहा है क्योंकि भारत में छात्रों में विदेशी भाषा सीखने की प्रवृत्ति बढ़ रही है। जापानी, कोरियाई, नेपाली और मणिपुरी भाषाओं में प्रस्तावित डिप्लोमा पाठ्यक्रम 1 वर्ष की अवधि के होंगे।