त्रिपुरा के खोवई जिले में एक 16 साल की लड़की के साथ कथित रूप से बलात्कार करने के आरोप में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी के बूथ स्तर के 46 साल के एक पदाधिकारी को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने कहा कि आरोपी श्यामल सरकार को मंगलवार को एक अदालत में पेश किया जाना था। वहीं पुलिस ने बताया कि पीड़िता सात महीने की गर्भवती है।

स्थानीय पुलिस अधिकारी सोनाचरण जमातिया ने कहा कि यह मामला रविवार को दर्ज किया गया था। जिसके बाद से ही आरोपी श्यामल सरकार फरार हो गया था, लेकिन हमारी टीम ने उसे सोमवार देर शाम से गिरफ्तार कर लिया।” बीजेपी कार्यकर्ता और आरोपी सरकार पर भारतीय दंड संहिता की धारा 376 (बलात्कार), 506 (आपराधिक धमकी), और यौन अपराधों से बच्चों का संरक्षण अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है। वहीं मामला सामने आने के बाद बीजेपी प्रवक्ता सुब्रत चक्रवर्ती ने कहा कि पार्टी ने सरकार को निलंबित कर दिया है। उन्होंने कहा कि यह एक भयानक घटना है। पुलिस आरोपी के खिलाफ उचित कार्रवाई करने के लिए स्वतंत्र है। हमारी पार्टी इस मामले में किली तरह का हस्तक्षेप नहीं करेगी।

हाल ही में उत्तराखंड में एक और ऐसी ही घटना सामने आई थी। जिसमें बीजेपी कार्यकर्ता पर रेप के आरोप लगाए गए थे। दरअसल कुछ दिनों पहले ही उत्तराखंड से द्वारहाट से बीजेपी विधायक महेश नेगी पर एक महिला के साथ दुष्कर्म करने का आरोप लगाया गया था। पीड़ित महिला की मांग थी कि महेश नेगी को उनकी बच्ची को अपना नाम देना चाहिए। इसके साथ ही उसने आरोप लगाया कि डर की वजह से वह डीएनए टेस्ट कराने को तैयार नहीं है। महिला ने बीजेपी विधायक को धमकी देते हुए कहा था कि अगर उन्होंने डीएनए नही कराया तो वह अपनी बेटी के साथ विधायक के घर के बाहर धरना-प्रदर्शन करेगी।