दुनिया में कोरोना अपना कहर बरपा रहा है लेकिन कुछ इलाके हैं जहां कोरोना अपनी दस्तक नहीं दे पाया है। वहां इसका जोर नहीं चला है। पूर्वोत्तर भारत में कुछ चुनिंदा राज्यों में से त्रिपुरा "कोरोना-मुक्त" हो गया है। त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब देब ने इसकी खबर दी हैं। पूर्वोत्तर में असम को छोड़कर सभी राज्यों में राहत हैं लेकिन असम में हाल ही दो और कोरोना मरीज सामने आए हैं।



जानकारी के लिए बता दें कि त्रिपुरा में एक महीने पहले एक व्यक्ति कोरोना मरीज था। लेकिन वो बहुत जल्द ठीक हो गया है। देब बात करते हुए  कहा कि तब्लीगी जमात को देश के अपने हिस्से में COVID-19 को बढ़ाने के लिए जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने कहा कि वायरस फैलाने वाले इस्लामिक संप्रदाय के सदस्यों को कानून का खामियाजा भुगतना पड़ेगा।

वैसे त्रिपुरा पहले कुछ राज्यों में से एक है जो पूरी तरह से 'कोरोना-मुक्त' है। देब ने कहा कि त्रिपुरा के लोग पीएम मोदी के पत्र और भावना का जवाब दे रहे हैं। हमने केंद्र द्वारा दिए गए सुझावों पर अमल किया है और ईमानदारी से केंद्र सरकार के दिशानिर्देशों का पालन किया है। इसी के साथ केंद्र सरकार द्वारा की गई पहलों से संकेत लेते हुए, हमने हवाई अड्डे, रेलवे स्टेशन, राज्य और साथ ही बांग्लादेश के साथ अंतर्राष्ट्रीय चौकियों के साथ विभिन्न प्रवेश बिंदुओं पर थर्मल स्कैनर लगा दिए थे।