त्रिपुरा में 2020 से राज्य के आठ जिलो के विभिन्न थानों में पत्रकारों पर हमले के 24 मामले दर्ज किए गए हैं। यह जानकारी पुलिस ने रविवार को दी। 

सहायक पुलिस महानिरीक्षक (एआईजी) (कानून एवं व्यवस्था), सुब्रत चक्रवर्ती ने कहा कि पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) ने पत्रकारों के खिलाफ हिंसा की बढ़ती घटनाओं और हमलावरों के खिलाफ कार्रवाई करने में पुलिस की कथित विफलता पर समाचार पत्रों में प्रकाशित हालिया रिपोर्टों पर संज्ञान लिया है और इसपर चिंता व्यक्त की है। चक्रवर्ती ने कहा, डीजीपी वी एस यादव ने पांच जून को जिला पुलिस अधीक्षकों के साथ विस्तृत समीक्षा बैठक की।

उन्होंने कहा, पुलिस अधीक्षकों के साथ चर्चा के दौरान सामने आया कि पत्रकारों पर हमले के संबंध में वर्ष 2020 में 17 मामले दर्ज किए गए और अब तक वर्ष 2021 में सात मामले दर्ज किए गए। चक्रवर्ती ने कहा कि दर्ज किए गए 24 मामलों में से 16 मामलों में आरोप पत्र दायर किया चुका है, तीन मामलों में समझौता हो गया जबकि शेष पांच मामलों में अब भी जांच चल रही है।