त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब ने कहा कि त्रिपुरा को बांग्लादेश से जोड़ने वाले सोनामुरा-दाउदकांडी जलमार्ग पर सितंबर में परीक्षण के तौर पर पहला परिचालन किया जाएगा। इस साल मई में भारत-बांग्लादेश प्रोटोकॉल (आईबीपी) मार्गों की सूची में 93 किलोमीटर लंबे सोनामुरा-दाउदकांडी जलमार्ग को शामिल किया गया था। 

देब ने फेसबुक पर एक पोस्ट में बताया, ‘परीक्षण के तौर पर इस मार्ग पर सितंबर, 2020 के पहले सप्ताह में परिचालन किया जाएगा। इस दौरान मालवाहक नौकाओं से 50 एम टी सीमेंट ढाका से सोनामुरा लाया जाएगा। ऐसा इतिहास में पहली बार होगा जब किसी भी तरह का माल त्रिपुरा में जहाज से पहुंचेगा।’

मुख्यमंत्री ने कहा कि बांग्लादेश जलमार्ग यातायात प्राधिकरण ने बांग्लादेश में कोमिला जिले के दाउदकांडी से त्रिपुरा के सिपाहीजाला जिले के सोनामुरा तक परीक्षण आवाजाही की मंजूरी दे दी है। 

गोमती नदी के रास्ते यह स्थान अगरतला से 60 किलोमीटर की दूरी पर है। त्रिपुरा ने भारत-बांग्लादेश अंतरराष्ट्रीय जलमार्ग संपर्क परियोजना के तहत चार जुलाई को गोमती नदी में एक तैरने वाली जेट्टी को उतारा था।