कलकत्ता उच्च न्यायालय (Kolkata High Court) के एक वकील ने एक ट्वीट का हवाला देते हुए भाजपा नेता तथागत रॉय (BJP leader Tathagata Roy) के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है, जिसमें उन्होंने पार्टी से महिलाओं और धन के रैकेट से बाहर आने का आग्रह किया। शिकायतकर्ता ने कोलकाता पुलिस से यह पता लगाने के लिए आरोपी से पूछताछ करने का आग्रह किया है कि क्या हाल ही में संपन्न विधानसभा चुनावों में पैसे और महिलाओं का कोई लेन-देन हुआ था।

मेघालय और त्रिपुरा के पूर्व राज्यपाल ने सोमवार को बीजेपी के नए प्रदेश अध्यक्ष सुकांत मजूमदार और विपक्ष के नेता सुवेंदु अधिकारी पर भरोसा जताते हुए ट्वीट किया, पार्टी को पैसे और महिलाओं के घेरे से बाहर निकाला जाना चाहिए। इससे पार्टी पीछे जाएगी आगे नहीं। दिग्गज नेता ने यह भी कहा कि उनके पास बहुत सारे रहस्य हैं लेकिन चूंकि वह पार्टी नहीं छोड़ रहे हैं, इसलिए वह उन्हें प्रकट नहीं करेंगे।

ट्वीट का हवाला देते हुए वकील सयान बनर्जी ने मंगलवार रात कोलकाता के हरे स्ट्रीट थाने में शिकायत दर्ज कराई। बनर्जी ने अपनी शिकायत में लिखा, मुझे पता चला कि त्रिपुरा और मेघालय के पूर्व राज्यपाल तथागत रॉय ने आरोप लगाया कि भाजपा ने 2021 के बंगाल विधानसभा चुनावों में अनैतिक तरीके से पैसे और महिलाओं का आदान-प्रदान किया।

उन्होंने कहा, महिलाओं के खिलाफ अपराध के संबंध में कई भाजपा नेताओं के खिलाफ महिला आयोग के पास पहले से ही कई शिकायतें हैं। अगर रॉय के ट्वीट में थोड़ी सच्चाई शामिल है तो यह एक खतरनाक प्रवृत्ति है और एक जिम्मेदार नागरिक होने के नाते, मैं पुलिस से इस मामले की जांच करने के लिए कहूंगा। यह एक बहुत ही गंभीर बात है रॉय को पुलिस स्टेशन बुलाकर पूछताछ की जानी चाहिए। हालांकि, बेखौफ, रॉय ने वकील का मजाक उड़ाते हुए कहा, हे भगवान! क्या शिकायत है! यह वास्तव में आश्चर्यजनक है कि ऐसे लोग कलकत्ता उच्च न्यायालय के वकील हैं।

पिछले कुछ दिनों से रॉय पूर्व प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष, राष्ट्रीय पर्यवेक्षकों- कैलाश विजयवर्गीय और अरविंद मेनन और केंद्रीय पर्यवेक्षक शिव प्रकाश सहित भाजपा के चार नेताओं के खिलाफ जमकर प्रहार कर रहे हैं। हालात यहां तक चले गए कि पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष दिलीप घोष ने रॉय को पार्टी छोड़ने के लिए कह दिया था। हालांकि, रॉय ने उन नेताओं के खिलाफ अपना तीखा हमला जारी रखा, जिनके बारे में उनका मानना है कि वे हालिया चुनावी हार के लिए जिम्मेदार हैं।