सौराष्ट्र ने यहां ग्रुप ए के मैच में त्रिपुरा को चार विकेट से हराकर विजय हजारे ट्रॉफी एक दिवसीय क्रिकेट टूर्नामेंट के नॉकआउट चरण में अपनी जगह लगभग पक्की कर दी। चंडीगढ़ भी नॉकआउट की दौड़ में बना हुआ है। उसने ग्रुप ए के एक अन्य मैच में हिमाचल प्रदेश को पांच विकेट से पराजित किया। सौराष्ट्र और चंडीगढ़ दोनों के पांच जीत और एक हार से समान 20 अंक हैं। सौराष्ट्र बेहतर रन रेट के कारण शीर्ष पर है।

मुख्यमंत्री साहा का बड़ा दावाः त्रिपुरा में फिर से सरकार बनाएगी भाजपा


सौराष्ट्र ने टॉस जीतकर पहले क्षेत्ररक्षण का फैसला किया और त्रिपुरा को 42.1 ओवर में 133 रन पर आउट कर दिया। इसके बाद उसने 36.5 ओवर में छह विकेट खोकर लक्ष्य हासिल किया। सौराष्ट्र की तरफ से जयदेव उनादकट ने तीन जबकि चेतन सकारिया और प्रेरक मांकड़ ने दो-दो विकेट लिए। लक्ष्य का पीछा करते हुए सौराष्ट्र की शुरुआत अच्छी नहीं रही और एक समय उसने खाता खोले बिना ही तीन विकेट गंवा दिए थे। यह तीनों विकेट मध्यम गति के गेंदबाज राणा दत्ता ने लिए। उन्होंने बाद में हार्विक देसाई (29) के रूप में अपना चौथा विकेट लिया। ऐसे में अर्पित वासवदा (नाबाद 51) और पार्थ भुट (नाबाद 32) ने टीम को लक्ष्य तक पहुंचाया।

शिक्षा की गुणवत्ता के लिए त्रिपुरा ने सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों के लिए नियमों में बदलाव किया


ग्रुप के एक अन्य मैच में हिमाचल प्रदेश ने एकांत सेन के 116 रन की मदद से आठ विकेट पर 302 रन बनाए। उसकी तरफ से प्रशांत चोपड़ा ने भी 69 रन का योगदान दिया। चंडीगढ़ ने हालांकि अर्सलान खान के 107 रन तथा अक्षित राणा (58) और गौरव पुरी (57) के अर्धशतक की मदद से इस स्कोर को भी बौना कर दिया। चंडीगढ़ ने एक गेंद शेष रहते हुए जीत दर्ज की। अन्य मैचों में उत्तर प्रदेश ने मणिपुर को आठ विकेट से हराकर 16 अंकों के साथ तीसरा स्थान हासिल किया जबकि हैदराबाद में गुजरात को चार विकेट से हराया।