उत्तरी त्रिपुरा के धलाई जिले के कमलपुर सब-डिवीजन में बलात्कार के एक आरोपी (rape accused) को पुलिस ने शिकायत दर्ज होने के महज 72 घंटों बाद गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। इस आरोपी ने 10वीं कक्षा में पढने वाली एक नाबालिग के साथ दुष्कर्म किया था जिसके बाद उस लड़की के जंगली जहरीले बीज खाकर आत्महत्या कर ली थी। 

प्राप्त जानकारी के अनुसार पुलिस निरीक्षक पंपी नाथ ने एक गुप्त सूचना पर रविवार को दुष्कर्म आरोपी सौरभ शील को खोवाई से पकड़ लिया है। मामले की शिकायत उत्तर त्रिपुरा (tripura) के ढलाई जिले के कमलपुर सब-डिवीजन में दर्ज कराई गई थी जिस पर यह कार्रवाई 72 घंटों के भीतर हुई है।

नाबालिग के मां-बाप ने बताया कि वह मूल रूप से इसी जिले की अम्बस्सा सबडिवीजन की रहने वाली थी की थी और बहुत छोटी उम्र से ही अपने मामा के घर कमलपुर में रहती थी। नाबालिग स्थानीय स्कूल में कक्षा दसवीं की छात्रा थी। दीवाली की रात नाबालिग के साथ पड़ोस में रहने वाले सौरव शील ने दुष्कर्म किया, जिसकी जानकारी उसने अपनी माता सुबह घर पहुंचकर दी।

नाबालिग की माता के आरोपी से सवाल करने पास उसने उनकी बेइज्जती की। जिसके बाद वे सब अम्बस्सा लौट आए। इसके बाद नाबालिग ने जंगल में जाकर जहरीले बीज खा लिए थे और हालत खराब होने के बाद उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था। इसके बाद जहां अगरतला मेडिकल कालेज और अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां बाद में उसकी मौत हो गई थी।बच्ची की मौत के बाद उसके माता-पिता ने कमलपुर पुलिस स्टेशन ने शिकायत दर्ज कराई थी जिस पर कार्रवाई करते हुए पुलिस ने सौरव को गिरफ्तार कर लिया था। जिला बाल कल्याण समिति के सदस्यों ने पुलिस स्टेशन जाकर घटना की पूरी जानकारी लेते हुए पुलिस अधिकारियों को कठोर कार्रवाई के निर्देश दिए थे।