निर्वाचन आयोग ने मिजोरम के 5,600 से अधिक विस्थापित ब्रू आदिवासियों को पड़ोसी राज्य में पुनर्वास के बाद त्रिपुरा के स्थायी मतदाताओं के रूप में नामांकित किया है। नामांकित ब्रू मतदाता मूल रूप से मिजोरम के हैं। वे 1997 से त्रिपुरा में रह रहे हैं और जनवरी 2020 में हुए समझौते के अनुसार वे स्थायी रूप से पड़ोसी राज्य में बस गए हैं।

ये भी पढ़ेंः कांग्रेस ने बलात्कारी को बचाने के लिए भाजपा मंत्री के खिलाफ कार्रवाई की मांग की


मिजोरम के संयुक्त मुख्य चुनाव अधिकारी डेविड लियांसंगलुरा पचुआउ ने बताया कि त्रिपुरा से प्राप्त अनुरोध के अनुसार, अब तक नौ विधानसभा क्षेत्रों के 5,600 में से 1,594 ब्रू मतदाताओं के नाम मिजोरम की मतदाता सूची से हटा दिए गए हैं।

ये भी पढ़ेंः त्रिपुरा में मादक पदार्थों के मामलों की जांच के लिए बनेगी एनसीबी विंग


वर्ष 1997 में ब्रू उग्रवादियों द्वारा मिजो वन अधिकारी की हत्या किए जाने के बाद पैदा हुए जातीय तनाव के चलते हजारों ब्रू त्रिपुरा भाग गए थे और तब से वे ट्रांजिट शिविरों में रहते आए हैं।