त्रिपुरा में सांप्रदायिक हिंसा (Communal Violence in Tripura) के खिलाफ मंगलवार इंसाफ मंच और भाकपा माले के कार्याकर्ताओं ने डुमरांव थाना के चौराहा पर पीएम (PM) का पुतला दहन किया। राज्यव्यापी प्रतिरोध दिवस पर यह आयोजन हुआ। 

इस दौरान साम्प्रदायिक हिंसा पर रोक लगाने ,देश के अल्पसंख्यक समुदाय को सुरक्षा प्रदान करने,देश के जम्हुरी निजाम की हिफाजत और त्रिपुरा हिंसा के दोषियों को सजा देने का सवाल प्रमुख रुप से उठाया गया।पुतला दहन के बाद सभा को संबोधित करते हुए नेताओं ने कहा कि त्रिपुरा में हुई साम्प्रदायिक हिंसा अल्पसंख्यक विरोधी हिंसा थी। 

नेताओं ने कहा कि त्रिपुरा में साम्प्रदायिक हिंसा (Communal Violence) के दोषियों पर कड़ी कार्रवाई हो। भाकपा माले नेताओं ने विहिप व बजरंग दल के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।पुतला दहन में माले के डुमरांव सचिव सुकर राम , इंसाफ मंच के जाबिर कुरैशी , माले नेता कन्हैया पासवान , भगवान दास, मीडिया प्रभारी सह विधायक प्रतिनिधि संजय शर्मा , इंसाफ मंच के उजान कुरैशी , इमरान खान , इनौस नेता रिंकू कुरैशी व सफाई कर्मचारियों के नेता भगवान दास , पिंटू , दीपक , रत्न धर्मेन्द्र , जीतेंद्र, सुदामा, लक्ष्मण, संतोष रवि स्नेही राम , ब्रह्मदेव पासी चित्र डोम, मीरा लाखो,रमिया शीला ,चंदा ,सुनीता, सीता,रिंकी सूरज अनिता,स्नेहा ,उधारी और नंदजी सहित अन्य शामिल थे।