अगरतला। अब जल्द ही त्रिपुरा वालों के अच्छे दिन आने वाले हैं, क्योंकि IOC अब बांग्लादेश के रास्ते इस राज्ये मैं ईंधन पहुंचाएगी। सार्वजनिक क्षेत्र की प्रमुख कंपनी इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन ने इसके बारे जानकारी दी है। आईओसी परीक्षण परिचालन के दौरान गुवाहाटी से बांग्लादेश के रास्ते तीन एलपीजी टैंकर और पेट्रोल तथा डीजल के सात टैंकर पहुंचाएगी।

ये भी पढ़ेंः ब्लाउज का सिर्फ एक बटन लगाकर घूमने निकल पड़ीं दिशा पाटनी, जिसने भी देखा उड़ गए होश, देखें VIDEO

अधिकारी ने बताया कि प्रत्येक तेल टैंकर की क्षमता 12,000 लीटर है। आईओसी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने पीटीआई-भाषा को बताया, ‘‘आईओसी इस संबंध में पहले ही तीन अगस्त को ढाका में बांग्लादेशी अधिकारियों के साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर कर चुकी है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘वीजा जारी होने के बाद एलपीजी और तेल टैंकर बांग्लादेश के रास्ते वैकल्पिक सड़क पर परीक्षण संचालन के लिए आगे बढ़ेंगे। हम इसके लिए पूरी तरह से तैयार हैं।’’

ये भी पढ़ेंः 48 साल की मलाइका अरोड़ा इस उम्र में भी खुद को कैसे रखती हैं जवां, राज खोल रहा है ये वीडियो

टैंकर असम के गुवाहाटी से मेघालय के ड्वाकी जाएंगे, जहां वे बांग्लादेश में प्रवेश करेंगे। इसके बाद उत्तरी त्रिपुरा में आईओसी के धर्मनगर डिपो तक पहुंचेंगे। अधिकारी ने कहा, ‘‘परीक्षण संचालन की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। यदि परीक्षण सफल रहा, तो आईओसी भविष्य में अप्रत्याशित घटनाओं की स्थिति में त्रिपुरा को ईंधन की आपूर्ति के लिए इस वैकल्पिक सड़क का उपयोग करेगी।’’ इससे पहले खबर थी की आईओसी बाढ़ और भूस्खलन की स्थिति में बांग्लादेश के रास्ते त्रिपुरा तक ईंधन पहुंचाने की योजना बना रही है।