त्रिपुरा में हाल ही में उपचुनाव संपन्न हुए हैं। जिसमें इंडिजिनस नेशनलिस्ट फ्रंट ऑफ़ ट्विप्रा (INPT) का टिपराहा स्वदेशी प्रगतिशील क्षेत्रीय गठबंधन (TIPRA) जोरदार टक्कर देखने को मिली थी लेकिन अब दोनों राजनीतिक पार्टियों मूड बदल गया और राज्य में एक साथ काम करने के लिए एक दूसरे की तरफ हाथ बढ़ाया है। बता दें कि INPT पार्टी TIPRA में विलय हो गई है।

त्रिपुरा रॉयल स्कोन प्रद्योत देब बर्मन के नेतृत्व वाले TIPRA में इंडिजिनस नेशनलिस्ट फ्रंट ऑफ़ ट्विप्रा विलय हो गई है। अगरतला में उज्जयंत पैलेस में एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में आईएनपीटी प्रमुख बी के ह्रांगखल और प्रद्योत देब बर्मन ने यह घोषणा की है। विशेष रूप से, TIPRA और INPT ने हाल ही में संपन्न त्रिपुरा जनजातीय क्षेत्र स्वायत्त जिला परिषद (TTAADC) के चुनावों को सहयोगी के रूप में लड़ा था।

दोनों पार्टियों ने TTAADC चुनाव में 18 सीटें जीतने के बाद सहयोगी के रूप में TTAADC में सरकार बनाई। टीआईपीआरए के चेयरमैन प्रद्योत देब बर्मन ने कहा, "यह कल्याण और ग्रेटर टिपरलैंड के लिए था, कि दोनों पार्टियां हाथ मिलाएं और एक हो जाएं "।