त्रिपुरा (Tripura) के मुख्‍यमंत्री बिप्‍लब देब ने बुधवार को राज्‍य में HIV को लेकर नया आदेश दिया। मुख्‍यंत्री देव ने राज्‍य के स्‍वास्‍थ्‍य अधिकारियों से कहा है कि अगर जरूरत हो तो अगरतला शहर में मौजूद जो भी कॉलेज हैं, वहां HIV की जांच करवाई जाए। दरअसल, मुख्‍यमंत्री ने कहा कि अगरतला में HIV के मामले बढ़े हैं। कई लोग इंजेक्‍शन से ड्रग ले रहे हैं।

मुख्‍यमंत्री बिप्‍लब देब बुधवार को विश्‍व एड्स दिवस के मौके पर प्रग्‍न भवन में पत्रकारों से बात कर रहे थे। उन्‍होंने कहा कि राज्‍य एड्स नियंत्रण सोसाइटी से जो डाटा मिला है, वह काफी चिंताजनक है। HIV और AIDS के मामले लगातार बढ़े हैं।

देव ने ये भी बताया कि जो मामले बढ़े हैं, वह राजधानी अगरतला के कॉलेज में सामने आ रहे हैं। जिसने हमारी चिंता बढ़ा दी है। आखिर इन कॉलेज में ड्रग कैसे पहुंच रहा है, इस बात की जांच हो चाहिए। सीएम देव ने आगे बताया कि जरूरत पड़ने पर पुलिस को भी इस मामले सहयोग करने के लिए कहा गया है।

त्रिपुरा के मुख्‍यमंत्री बिप्‍लब देब ने कहा कि जीबीपी हॉस्पिटल में हर दिन दो से तीन HIV पॉजिटिव केस सामने आ रहे हैं। जो आने वाले दिनों में हमारे लिए और परेशानी बढ़ा सकता है। एड्स कंट्रोल सोसाइटी ने जो डाटा जारी किया है। उसके अनुसार त्रिपुरा में अब तक 2,459 एचआईवी के केस पिछले 20 सालों में सामने आए हैं। इनमें 750 महिलाएं और 1709 पुरुष हैं। अब तक 640 लोगों की मौत एचआईवी के कारण त्रिपुरा में हुई है। अप्रैल से अक्‍टूबर के बीच 560 लोगों में एचआईवी होने की पुष्टि हुई है। इस साल जो इंजेक्‍शन से ड्रग का सेवन करते हैं, उनमें 860 एचआईवी पॉजिटिव पाए गए हैं।

नॉर्थ त्रिपुरा- 594 

वेस्‍ट त्रिपुरा- 564 

धलाई- 408 

खोवाई- 188 

गोमाती- 183 

शेपाहिजाला- 137 

दक्षिण त्रिपुरा- 109