अगरतला। अगरतला में डेढ़ महीने के लंबे अंतराल के बाद कोरोना संक्रमण के चार नए मामले सामने आये। राज्य में गुरुवार को कुल 403 नमूनों की जांच की गयी है। स्वास्थ्य अधिकारियों ने कहा कि कोरोना संक्रमण से संक्रमित चार मरीजों में से दो पश्चिम त्रिपुरा से हैं, जबकि अन्य दो उनाकोटी जिले से हैं। इनमें से हालांकि किसी ने राज्य के बाहर की यात्रा नहीं की है। 

उन्होंने कहा, 'संक्रमित मरीजों में संक्रमण के हल्के लक्षण पाये गए हैं और उनका उपचार घर पर ही किया जा रहा है। ऐसा माना जा रहा है ये मरीज स्थानीय लोगों के संपर्क में आने से संक्रमित हुए हैं। ये मरीज इन्फ़्लुएन्जा और बुखार की शिकायत के बाद उपचार के लिए स्थानीय अस्पताल पहुंचे। जिसके बाद कोरोना प्रोटोकॉल के तहत उनकी जांच की गयी, जिसमें वे संक्रमित पाये गए। 

ये भी पढ़ेंः अग्निपथ विरोध प्रदर्शनः आखिर क्यों 5 दिनों तक जला बिहार, पुलिस ने किया चौंकाने वाला खुलासा


गौरतलब है कि राज्य में छह मई को कोरोना संक्रमण के तीन मामलों की पुष्टि हुई थी, लेकिन उनमें से किसी को भी ज्यादा परेशानी नहीं थी। गत छह मई के बाद राज्य में कोरोना संक्रमण के दैनिक मामलों में कमी आयी थी। त्रिपुरा में कोरोना संक्रमण से अब तक 1.9 लाख लोग संक्रमित हो चुके हैं, जबकि इस जानलेवा वायरस के संक्रमण से 920 लोगों की मौत हो चुकी है। 

ये भी पढ़ेंः Maharashtra political crisis : हिमंत बिस्वा सरमा का बड़ा बयान , कहा - गुवाहाटी में शिवसेना के विधायकों के बारे में नहीं जानता


अधिकारियों ने बताया कि राज्य में कोरेाना प्रोटोकॉल के तहत सार्वजिक स्थानों पर मास्क पहनना अनिवार्य नहीं किया गया है, लेकिन प्रशासन भीड़-भाड़ वाले स्थानों जैसे लोकल ट्रेन, स्कूल में फेस मास्क पहने पर जोर दे रहा है। उन्होंने कहा कि इन्फ़्लुएन्जा जैसे लक्षण दिखने पर प्रशासन ने लोगों को जांच कराने की सलाह दी है।