पुलिस ने 2.3 किलो गांजा रखने के आरोप में त्रिपुरा के 19 वर्षीय छात्र को गिरफ्तार किया है। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि एक गुप्त सूचना पर कार्रवाई करते हुए, टीम ने प्रेमनगर क्षेत्र के बालसुंदरी मंदिर के पास फेनरंग देबवर्मा को गिरफ्तार कर लिया, जब वह एक खरीदार को खेप सौंपने की कोशिश कर रहा था।

यह भी पढ़ें- Uttarakhand election result 2022 UPDATE: पूर्व सीएम हरीश रावत को हरा कर मोहन सिंह बिष्ट ने निकाला विजयी जुलूस


पश्चिम त्रिपुरा जिले के बोरखताल गांव के रहने वाले फेनरंग देबवर्मा देहरादून के सेलाकी इलाके के एक कॉलेज में पढ़ रहे हैं। पूछताछ के दौरान 19 वर्षीय छात्र ने स्वीकार किया कि उसने त्रिपुरा में एक संपर्क के जरिए 2.3 किलोग्राम गांजा की खेप हासिल की थी। देहरादून पुलिस अब त्रिपुरा से उत्तराखंड में गांजा तस्करी के पूरे नेटवर्क का पता लगाने की कोशिश कर रही है।

पिछले कुछ वर्षों के दौरान, त्रिपुरा के कुछ इलाकों, विशेष रूप से सिपाहीजाला जिले में, गांजा उत्पादन के रूप में उभरा है, और तस्करों के कई नेटवर्क अब इस क्षेत्र में सक्रिय हैं, और पूरे भारत में दूर-दराज के क्षेत्रों में खेप भेज रहे हैं।