त्रिपुरा राज्य में BSF नियमित रूप से ‘विशेष एंटी-नारकोटिक्स ड्राइव’ आयोजित कर रहा है और सीमा पार ड्रग और नशीली पदार्थ के तस्करों के नापाक मंसूबों को सफलतापूर्वक बेअसर कर रहा है। दरअसल कल यानी 04 जुलाई 2021 को, एक विशिष्ट खुफिया जानकारी पर कार्रवाई करते हुए पानीसागर के 20 BSF सैनिकों और पीएस-कैलाशहर की स्थानीय पुलिस पार्टी ने एक विशेष संयुक्त अभियान चलाया।

इस अभियान के तहत त्रिपुरा के उनाकोटी में पेटूर बाजार बस स्टैंड, कैलाशहर जिला के पास मोटरसाइकिल सवार एक संदिग्ध को पकड़ा गया। संदिग्ध ने अपनी पहचान बिलाल मिया बताई। संदिग्ध की उम्र 32 साल है साथ हा वो वहीं का स्तानीय निवासी भी है। पुलिस को बिलाल के कब्जे से 27 ग्राम ‘ब्राउन शुगर’ मिला जिसकी कीमत 13,50,000 है। उसके खिलाफ एक FIR दर्ज की गई है और जब्त किए गए सामान के साथ गिरफ्तार व्यक्ति को आगे की कानूनी कार्रवाई के लिए PS-कैलाशहर, सब डिवीजन-कैलाशहर, जिला- उनाकोटी, त्रिपुरा को सौंप दिया गया है।

दरअसल कुछ महीने पहले ही त्रिपुरा के अगरतला में ऐसा ही मामला सामने आया था। जहां एक ड्रग पेडलर की गिरफ्तारी की गई थी। मौके से तस्कर के पास से ड्रग्स, एक मोबाइल फोन और 1,84,000 रुपये नकद बरामद किए गए हैं। ड्रग पैडलर की पहचान पश्चिम चंपामुरा क्षेत्र के उमा मालाकार के रूप की गई। पुलिस ने बताया कि इस छापेमारी के दौरान 120 ग्राम ब्राउन शुगर, 200 ग्राम ब्राउन शुगर की भरी शीशियां और उसके घर से लगभग 1,000 खाली शीशियां मिलीं थी।

उप-विभागीय पुलिस अधिकारी रमेश यादव ने कहा बताया था कि ड्रग पेडलर्स और ड्रग किंगपिनों की संपत्ति को जब्त करने का प्रयास जारी है, ताकि उनकी आर्थिक सहायता भी छीनी जा सके। यादव ने कहा थी कि ड्रग की खेप बांग्लादेश, मेघालय और मणिपुर के माध्यम से त्रिपुरा में प्रवेश करती है।