महाराष्ट्र और दिल्ली जैसे कोरोना वायरस (कोविड-19) के हॉटस्पॉट क्षेत्रों से काफी संख्या में लोगों के लौटने के कारण त्रिपुरा में कोरोना संक्रमितों की संख्या 232 तक पहुंच गई है। राज्य में मंगलवार रात इस संक्रमण के 34 नये मामलों की पुष्टि हुई। वहीं पिछले तीन दिन में इस इस जानलेवा विषाणु के 65 मामले दर्ज किये गये हैं। 

कोरोना संक्रमित पाये गये 34 नये मरीजों में से 24 मुंबई से विशेष ट्रेन से गत तीन दिनों में लौटे हैं, जबकि पांच लोग इन लोगों के सम्पर्क में आने से संक्रमित हुए हैं। वहीं मंगलवार को प्रसव के लिए अस्पताल में दाखिल हुई सीमा सुरक्षा बल के जवान की पत्नी इस वायरस से संक्रमित पाई गई है। त्रिपुरा में कोरोना के मामलों में अचानक आई वृद्धि को देखते हुए राज्य सरकार ने महाराष्ट्र और दिल्ली से आने वाले सभी लोगों की जांच करने और उन्हें क्वारंटीन केंद्रों में रखने की घोषणा की है। 

गौरतलब है कि  देश में लगातार दो दिन से संक्रमण के नये मामलों की संख्या में आंशिक कमी और पिछले 24 घंटे में 3935 लोगों के रोगमुक्त होने से जहां थोड़ी राहत मिली है, वहीं पिछले 24 घंटे में संक्रमण के 6387 नये मामले सामने आने से देश में इससे प्रभावित होने वाले लोगों की संख्या डेढ़ लाख के पार पहुंच गई है। भारत इस संक्रमण से प्रभावित होने के मामले में दुनिया भर में 10वें स्थान पर है। पिछले 24 घंटों के दौरान देश के विभिन्न हिस्सों में इस संक्रमण के 6387 नये मामले दर्ज किये गये हैं तथा 170 लोगों ने जान गंवाई है। वहीं इस अवधि में 3935 लोगों के स्वस्थ होने से रोगमुक्त होने वाले लोगों की संख्या 64426 हो गयी है। केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से बुधवार को जारी किये गये आंकड़ों के अनुसार देश के विभिन्न राज्यों तथा केंद्र शासित प्रदेशों में अब तक इससे 151767 लोग संक्रमित हुए हैं तथा 4337 लोगों की मौत हुई है। देश में फिलहाल कोरोना के कुल 83004 सक्रिय मामले हैं। इससे एक दिन पहले 6535, सोमवार को 6977 और रविवार तथा शनिवार को क्रमश: 6767 और 6654 नये मामले सामने आये थे। 

महाराष्ट्र इस महामारी से देश में सबसे अधिक प्रभावित हुआ है। इस राज्य में कोरोना ने बहुत कहर बरपाया है। महाराष्ट्र में पिछले 24 घंटों में 2091 नये मामले सामने आये हैं। इसके बाद राज्य में अब तक इससे प्रभावित होने वाले लोगों की संख्या बढकऱ 54758 हो गई है। राज्य में इस जानलेवा विषाणु से अब तक 1792 लोगों की मौत हुई है तथा 16954 इसके संक्रमण से ठीक हुए हैं। कोरोना वायरस से प्रभावित होने के मामले में तमिलनाडु दूसरे नंबर पर है। तमिलनाडु में अब तक 17,728 लोग इससे संक्रमित हुए हैं तथा 127 लोगों की मृत्यु हुई है। वहीं 9342 लोगों को उपचार के बाद विभिन्न अस्पतालों से छुट्टी मिल चुकी है।