त्रिपुरा बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (TBSE) कोरना महामारी के कारण मार्च में कराने या दो महीने बाद बोर्ड परीक्षाओं (TBSE Board Exam 2021) को टालने पर विचार कर रहा है। बोर्ड अपनी परीक्षा की समय सारणी निर्धारित करने के लिए केंद्रीय बोर्ड का बारीकी से अनुसरण कर रहा है। इसने दूर-दराज के क्षेत्रों के स्कूलों में महामारी को देखते हुए ऑनलाइन पंजीकरण और नामांकन की समय-सीमा में छूट दी है। रिपोर्ट के मुताबिक TBSE के अध्यक्ष डॉ. भबतोष साहा ने मीडिया से बातचीत करते हुए बताया कि बोर्ड परीक्षाओं के लिए ऑनलाइन पंजीकरण 7 नवंबर से शुरू हुआ और 7 दिसंबर को समाप्त होने का शेड्यूल था।


बोर्ड ने अभी तक शेड्यूल को रिवाइज्ड नहीं किया है, लेकिन स्कूलों से ऑनलाइन पंजीकरण के लिए आवेदन समय सीमा पर जमा करने को कहा है। डॉ. साहा ने कहा, “हमने अभी तक किसी भी रिवाइज्ड समय सीमा की आधिकारिक घोषणा नहीं की है। केवल लगभग 50 प्रतिशत स्कूल अपनी ऑनलाइन पंजीकरण प्रक्रिया को समय सीमा के भीतर पूरा कर चुके हैं। इसलिए, हम बाकी स्कूलों से प्रक्रिया का पालन करने और आवेदन जमा करने के लिए कह रहे हैं। चूंकि यह पहली बार है, जब आवेदन जमा करने के लिए कुछ और समय दिया गया है।”


ऑनलाइन पंजीकरण कक्षा 9वीं के छात्रों के लिए है, जो अगले साल अपनी पहली बोर्ड परीक्षा में शामिल होंगे जबकि 11 वीं कक्षा के छात्रों के लिए यह नामांकन प्रक्रिया है। इस साल तक ऑफलाइन होने वाली नामांकन प्रक्रिया 21 दिसंबर से ऑनलाइन होगी।

पिछले साल के बोर्ड परीक्षा शेड्यूल को लेकर TBSE प्रमुख ने कहा, “हमारा वार्षिक कैलेंडर मार्च में बोर्ड परीक्षाओं का आयोजन करता है। हालांकि, महामारी के कारण, यह स्पष्ट है कि परीक्षा अप्रैल के मध्य या मई तक टाल दी जा सकती है। हम CBSE का अनुसरण करने की कोशिश कर रहे हैं। चूंकि उन्होंने अपनी तारीखों की घोषणा नहीं की है, हम इंतजार कर रहे हैं।” डॉ. साहा ने कहा कि राज्य शिक्षा बोर्ड की 16 दिसंबर को एक शासी निकाय की बैठक होनी है। हम यह फैसला लेने की उम्मीद कर रहे हैं।