2018 के चुनावों में भाजपा ने इतिहास रचने हुए त्रिपुरा में वापपंथी किला ढहा अपनी सरकार बनाई थी। इस वक्त मुख्यमंत्री की कुर्सी बिप्लब कुमार देब को दी गई। हालांकि देब अपने काम से ज्यादा बयानों से चर्चित रहे। ऐसे में मई 2022 में बीजेपी ने देब से इस्तीफा ले लिया। अब देब को राज्यसभा भेजने की तैयारी हो रही है। दरअसल भाजपा की केंद्रीय चुनाव समिति ने त्रिपुरा की एक राज्यसभा सीट के उपचुनाव में देब को उम्मीदवार बनाने का निर्णय लिया है। ऐसे में इस खबर में हम आपको देब के कुछ चर्चित बयानों से रूबरू करवाने जा रहे हैं। 

ये भी पढ़ेंः खुशखबरीः सरकारी कॉलेजों में सभी छात्राओं को मुफ्त शिक्षा प्रदान करेगी इस राज्य की सरकार


कम दिमाग वाले हैं जाट और पंजाबी

त्रिपुरा के मुख्यमंत्री के रूप में एक बार देब ने जाट और पंजाबियों को कम दिमाग वाला करार दिया था। हालांकि बयान पर बवाल मचने के बाद देब को बकायदा माफी भी मांगनी पड़ी थी। दरअसल देब ने कहा था कि सरकार किसी ने नहीं डरते हैं, वे मजबूत दिल के होते हैं, लेकिन उनमें दिमाग कम होता है। वहीं देब ने जाटों को शारीरिक रूप से बलवान बता कम बुद्धि का करार दिया। 

ये भी पढ़ेंः भाजपा शासन में संसदीय लोकतंत्र खतरे में : विपक्ष के नेता माणिक सरकार


महाभारत काल में मौजूद था इंटरनेट

अगरतला के प्रगना भवन पीडीएस सिस्टम के कार्यक्रम के दौरान देब ने यह कहकर सनसनी फैला दी थी कि महाभारत काल में भी इंटरनेट मौजूद था। दरअसल देब ने कहा था कि भारत में इंटरनेट का अविष्कार लाखों साल पहले हो गया था। अगर भारत के पास इंटरनेट की तकनीक नहीं होती तो महाभारत में संजय धृतराष्ट्र को युद्ध का आंखों-देखा हाल कैसे बयां कर पाते। उन्होंने कहा कि देश के पास उस वक्त सेटेलाइट मौजूद थी और ये लाखों साल पहले तकनीक के मौजूद होने का प्रमाण है। उन्होंने कहा कि लोग इसे नकार देते हैं, लेकिन यही सच है।

ये भी पढ़ेंः कतर और दुबई हुए त्रिपुरा के पाइनएप्पल के कायल, लगातार बढ़ रहा निर्यात


डायना हेडन पर किया कमेंट, फिर मांगी माफी

एक कार्यक्रम के दौरान देब ने मिस वर्ल्ड कॉम्पिटीशन पर भी सवाल उठाए थे। उन्होंने ऐश्वर्या राय की तारीफ करते हुए कहा था कि डायना हेडन मिस वर्ल्ड खिताब जीतने के लायक नहीं थी, सही मायनों में ऐश्वर्या राय ही भारतीय महिलाओं का प्रतिनिधित्व करती हैं। वहीं देब को इस बयान को डायना ने शर्मनाक बताते हुए कहा था कि त्वचा के रंग की वजह से किसी की आलोचना करना गलत है। ये बेहद शर्मनाक है कि जब आप दुनिया का सबसे बड़ा और अहम ब्यूटी टाइटल जीतते हैं, तो आपको सराहना मिलने की बजाय आपकी आलोचना की जाती है। हालांकि बाद में देब ने माफी मांग ली।