अगरतला। त्रिपुरा में भाजपा (BJP in Tripura) ने ऐतिहासिक जीत दर्ज की है। त्रिपुरा की जनता ने उन लोगों को करारा जवाब दिया है जो नगर निकाय चुनाव में भाजपा को हराकर त्रिपुरा को नुकसान पहुंचाना चाहते थे। ये बातें त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देव (Chief Minister Biplab Kumar Dev) ने रविवार को चुनाव परिणामों की घोषणा के बाद कही।

रविवार की शाम को आयोजित संवाददाता सम्मेलन में मुख्यमंत्री के साथ ही केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा (Union Minister Arjun Munda), उपमुख्यमंत्री जिष्णु देबवर्मा (Deputy Chief Minister Jishnu Debvarma), सांसद रेबती त्रिपुरा (MP Rebati Tripura) और भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. माणिक साहा (BJP State President Dr. Manik Saha) भी मौजूद थे। सभी नेताओं चुनाव में अभूतपूर्व जीत पर खुशी साझा की। मुख्यमंत्री ने कहा कि त्रिपुरा की जनता ने उन लोगों को करारा जवाब दिया है जो त्रिपुरेश्वरी मां की पवित्र भूमि को नुकसान पहुंचाना चाहते थे। जैसा कि वोट के परिणाम दर्शाते हैं, लोग विकास के पक्ष में हैं। इसलिए त्रिपुरा की जनता ने 98.50 फीसदी सीटें जीताकर भाजपा को तोहफा दिया है।

उन्होंने कटाक्ष करते हुए कहा, जो त्रिपुरा को बदनाम करने की कोशिश कर रहे थे, वे देखें कि कैलासहर या सोनमुरा के अल्पसंख्यक क्षेत्रों में भी लोगों ने विकास में विश्वास दिखाया है। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ दिनों से त्रिपुरा को बदनाम करने की कोशिश की जा रही है। उन्होंने दावा किया कि त्रिपुरा में पारंपरिक और सांस्कृतिक एकता भाजपा की जीत के कारणों में से एक है। उन्होंने कहा कि कड़ी मेहनत और एकाग्रता के साथ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में बने मंच ने भाजपा को जीत का स्वाद चखने में मदद की है। इस बीच, नगर निकाय चुनाव में बड़ी सफलता के लिए असम के मुख्यमंत्री डॉ हिमंत बिस्व सरमा (Assam Chief Minister Dr Himanta Biswa Sarma) ने त्रिपुरा के मुख्यमंत्री और त्रिपुरा प्रदेश भाजपा को बधाई दी है। चुनाव में अकेले भाजपा ने 222 सीटों में से 217 सीटों पर जीत हासिल की है।