त्रिपुरा से राज्यसभा के लिए बिप्लब कुमार देब का नामांकन और प्रमुख संगठनात्मक पदों पर बदलाव अगले साल देश के पूर्वोत्तर के तीन राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अपनी पार्टी के भीतरी कलह को कम करने की रणनीति के तहत खुद को पुर्नसंगठित करने में जोर लगा रही है। 

ये भी पढ़ेंः दुर्गा पूजा के बाद इस राज्य में गिर जाएगी भाजपा की सरकार, जानिए किसने की ऐसी भविष्यवाणी


त्रिपुरा के अलावा मेघालय और नागालैंड में भी 2024 चुनाव में होगा। भाजपा के उच्च पदस्थ सूत्रों के अनुसार त्रिपुरा सहित पूर्वोत्तर से पार्टी के दो वरिष्ठ एवं समर्पित नेताओं जिनमें से कुछ नए चेहरों को समायोजित करने के लिए जल्द ही राज्यपाल के रुप में नियुक्त किए जाने की संभावना है। भाजपा संसदीय समिति ने इसी अभियान के हिस्से के रुप में त्रिपुरा के पूर्व मुख्यमंत्री बिल्पब कुमार देब को राज्य की एकमात्र राज्यसभा सीट पर आगामी उपचुनाव के लिए पार्टी उम्मीदवार बनाया है।

ये भी पढ़ेंः सीएम माणिक साहा की बड़ी घोषणा, टीटीएएडीसी में जल्द खुलेगा मेडिकल कॉलेज


 यह सीट मनिक साहा के मुख्यमंत्री बनने के बाद इस्तीफा देने के कारण खाली हुई थी। उपचुनाव 22 सितम्बर को होगा। निर्वाचित होने के बाद देब हाल में क्षेत्र से राज्यसभा जाने वाले दूसरे पूर्व मुख्यमंत्री होंगे। पिछले साल असम के पूर्व मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल राज्यसभा के लिए चुने गए थे।