कन्नूर। मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के पोलित ब्यूरो सदस्य एवं त्रिपुरा के पूर्व मुख्यमंत्री माणिक सरकार ने आरोप लगाया है कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और आरएसएस भारतीय गणराज्य को एक नये रूप में ढालने तथा इसे एक हिंदू राष्ट्र बनाने की दिशा में अग्रसर हैं। 

यह भी पढ़े :Today's Petrol Diesel Price : आज ईंधन की तेजी में ब्रेक, 123.46 रुपये लीटर तक पंहुचा, चेक करें अपने शहर का रेट

सरकार ने यहां माकपा के 23वीं पार्टी कांग्रेस के उद्घाटन सत्र को संबोधित करते हुए कहा, 'देश आजादी के सात दशकों बाद गंभीर चुनौती का सामना कर रहा है। यहां हिंदुत्ववादी ताकतों और कॉरपोरेट संस्थाओं के बीच एक गठबंधन है, जो केंद्र के सत्तावादी शासन का समर्थन करता है।'

उन्होंने कहा, 'नव-उदारवादी और कॉरपोरेट समर्थक नीतियों ने लोगों की हालत और खराब कर दी है। सत्तारूढ़ दल की इस तरह की धर्मनिरपेक्षता और संघवाद का मुकाबला करने के लिए लोगों को एकजुट होकर अपने संघर्षों को तेज करना चाहिए।'

यह भी पढ़े : Mangal Rashi Parivartan : मंगल का राशि परिवर्तन आज, इन राशि वालों को शुभ फल की प्राप्ति होगी


सरकार ने कहा कि पार्टी कांग्रेस इस संदर्भ में विचार करेगी कि पार्टी को संगठनात्मक रूप से कैसे मजबूत किया जाए ताकि यह मेहनतकश और धर्मनिरपेक्ष विचारधारा वाले लोगों को संगठित करने के लिए एक प्रभावी संगठन के रूप में उभरे।