केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने त्रिपुरा में विपक्षी सांसदों और विधायकों के एक तथ्यान्वेषी दल पर हमले की निंदा की और आरोप लगाया कि इस ‘जघन्य कृत्य' के पीछे ‘‘संघ परिवार के गुंडे'' शामिल हैं। उन्होंने ट्वीट किया, त्रिपुरा जाने वाले विपक्षी सांसदों के तथ्यान्वेषी दल पर संघ परिवार के गुंडों द्वारा हमला निंदनीय है।

ये भी पढ़ेंः त्रिपुरा में कांग्रेस-लेफ्ट सांसदों की गाड़ी पर पथराव, चुनाव बाद हिंसा की जांच कर रही थी टीम


उन्होंने आगे लिखा कि यह त्रिपुरा में कानून और व्यवस्था को बहाल करने की आवश्यकता को दर्शाता है। त्रिपुरा में आतंक के इस शासन को हराने के लिए लोकतांत्रिक ताकतों को एकजुट होना चाहिए। गौरतलब है कि त्रिपुरा में चुनाव के बाद हुई हिंसा की जांच करने के लिए पहुंचे वामपंथी दल और कांग्रेस के सांसदों और विधायकों के तथ्यान्वेषी दल पर सिपाहीजाला जिले में हमला हुआ था।

ये भी पढ़ेंः त्रिपुरा के मुख्यमंत्री माणिक शाह ने विभागों का बंटवारा किया, 32 विभाग अपने पास रखे


पुलिस ने बताया, तथ्यान्वेषी दल की यात्रा के दौरान नारेबाजी की सूचना मिली थी और उनके वाहनों पर कुछ बदमाशों ने हमला किया था। हालांकि, हमले में आठ-सदस्यीय टीम का कोई सदस्य घायल नहीं हुआ है। त्रिपुरा पुलिस ने बताया कि पुलिस एस्कॉर्ट टीम ने मौके पर पहुंचकर तुरंत कार्रवाई की और प्रतिनिधिमंडल के सदस्यों को सुरक्षित बचा लिया।