त्रिपुरा में पिछले 24 घंटे में कोविड -19 से 13 और लोगों की मौत हुई, जो एक दिन में इस बीमारी के कारण राज्य में मरने वालों की सर्वाधिक संख्या है। इसके साथ ही प्रदेश में इस महामारी से मरने वालों की संख्या बढ़कर 495 हो गई। स्वास्थ्य विभाग के बुलेटिन में शनिवार को यह जानकारी दी गई। इसमें कहा गया कि पूर्वोत्तर के इस राज्य में पिछले 24 घंटों में 783 और लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाये गये, जिससे राज्य में कोविड-19 के मामले बढ़कर 49,290 हो गए।

पश्चिम त्रिपुरा जिले में सबसे अधिक 378 मामले सामने आए, इसके बाद दक्षिण त्रिपुरा में 110, उनोकोटी में 73 और गोमती में 62 मामले सामने आए। शेष नए मामले कई अन्य जिलों में सामने आए। एक अधिकारी ने बताया कि इस बीच, त्रिपुरा सरकार ने अगरतला नगर निगम (एएमसी) क्षेत्र में रविवार से 'सामूहिक जांच अभियान' शुरू करने का फैसला किया है और इसके लिए स्वास्थ्य कर्मियों और अधिकारियों की 12 टीमों का गठन किया है। सदर उप संभागीय मजिस्ट्रेट असीम साहा ने कहा, "एएमसी क्षेत्र में कोविड संक्रमण दर अधिक है। लेकिन कुछ लोग जांच कराने से हिचकते हैं। इसे ध्यान में रखते हुए, प्रशासन ने रविवार से सामूहिक जांच अभियान शुरू करने का फैसला किया है।"

अधिकारी ने बताया कि प्रशासन ने एक महीने में नगर निकाय के सभी 49 वार्डों में इस काम को पूरा करने का लक्ष्य रखा है, लेकिन मामलों के आधार पर अवधि बढ़ाई जा सकती है। उन्होंने बताया कि शुरुआत में 12 टीमें घर-घर जाकर सर्वे करेंगी और जांच करेंगी। स्थिति के आधार पर टीमों की संख्या बढ़ाई जाएगी। साहा ने संवाददाताओं से कहा, "हमने शुरू में एक परिवार के कम से कम एक सदस्य की जांच करने का फैसला किया है। अगर किसी व्यक्ति में बीमारी का पता चलता है, तो उसके परिवार के अन्य सदस्यों की भी जांच कराई जाएगी।"

राज्य में अब तक 9,10,318 नमूनों की कोविड-19 के लिये जांच की गई है। बुलेटिन में कहा गया है कि त्रिपुरा में अब 6,324 मरीजों का इलाज चल रहा है। पिछले 24 घंटों में कम से कम 878 मरीज इस बीमारी से ठीक हुए हैं, जिससे राज्य में ठीक होने वालों की कुल संख्या बढ़कर 42,408 हो गई है।