त्रिपुरा जाकर काम करने से इनकार करने पर 6 दोस्तों ने मिलकर युवक मोती नायक की हत्या कर दी। साथ ही शव को श्मशान घाट में दफना दिया। घटना ठाकुरगांव के मुरुमगड़ा गांव की है। पुलिस ने रविवार को मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में मसना में दफनाए गए शव को बरामद किया। साथ ही हत्या के आरोपी छितेश्वर लोहरा, बीरबल लोहरा, रवि लोहरा, बसंत लोहरा, मानक करमाली और शिवलाल लोहरा को गिरफ्तार कर लिया।

ये भी पढ़ेंः गरीबी से हो चुका था परेशान, फिर किस्मत ने मारी पलटी और एक झटके में जीते 25 करोड़ रुपए

पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि मोती नायक को लगभग दो माह पूर्व त्रिपुरा में एक कंपनी में मजदूरी करने के लिए 12 हजार रुपए दिए थे। पैसा लेने के बाद भी मोती काम पर जाने को तैयार नही हुआ। इसे लेकर उनलोगों ने योजना तैयार कर मोती का अपहरण कर लिया और हत्या के बाद शव को दफना दिया था।

यह भी पढ़े : Aaj ka rashifal September 19 : आज इन राशि वालों को मिलेगा शुभ समाचार, ये लोगों को रहेगी संतान की चिंता


पुलिस के अनुसार, मृतक मोती के पिता खुदिल नायक ने 17 सितंबर को थाने में अपने बेटे के अपहरण की बात कहते हुए लिखित आवेदन दिया। साथ ही मुरुमगड़ा गांव निवासी छितेश्वर लोहार और उसके दोस्तों द्वारा अपहरण करने की बात भी बताई। थाना प्रभारी प्रमोद राय ने इस मामले में त्वरित कार्रवाई करते हुए छितेश्वर लोहरा को गिरफ्तार कर लिया। कड़ी पूछताछ में उसने अन्य आरोपियों के भी नाम बताए। इसके बाद सबको घटनास्थल ले जाकर दफनाए शव को निकालकर रिम्स भेज दिया।