हिंदू युवा वाहिनी के गुजरात प्रभारी योगी देवनाथ (Yogi Devnath)  ट्विटर पर ट्रेंड कर रहे हैं। ट्विटर पर तमाम लोग योगी देवनाथ की तस्वीरें पोस्ट कर रहे हैं और उन्हें 'गुजरात का योगी' बता रहे हैं। योगी देवनाथ की तस्वीरें उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ भी वायरल हो रही हैं। इतना ही नहीं खुद योगी देवनाथ भी अपने ट्विटर पर खूब सक्रिय रहते हैं और लगातार तमाम पोस्ट और तस्वीरें शेयर करते रहते हैं।

दरअसल, योगी देवनाथ गुजरात में हिंदू युवा वाहिनी (Yogi Devnath is in charge of Hindu Yuva Vahini)  के प्रभारी हैं। हाल ही में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के(Uttar Pradesh Chief Minister Yogi Adityanath) साथ उनकी कुछ तस्वीरें वायरल हुईं तो वे चर्चा में आ गए। लोग जब उनकी तस्वीरें पोस्ट करने लगे तो ट्विटर पर 'गुजरात का योगी' ट्रेंड करने लगा। इसके बाद योगी देवनाथ के ट्विटर हैंडल से पता चला कि वे खूब सक्रिय रहते हैं।

रिपोर्ट्स के मुताबिक योगी देवनाथ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के करीबी माने जाते हैं। योगी देवनाथ के ही नाम से उनकी एक वेबसाइट भी है जिसमें लिखा गया है कि वह गुजरात में हिंदू युवा वाहिनी के प्रभारी होने के साथ-साथ कच्छ संत समाज के अध्यक्ष हैं और अखिल भारतीय साधु समाज के सदस्य हैं। वे करीब 25 बरस से भारतीय जनता पार्टी के साथ भी जुड़े हुए हैं। साथ ही वे एकलधाम आश्रम के महंथ भी हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, नाथ संप्रदाय से संबंध रखने वाले योगी देवनाथ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के गुरुभाई हैं। योगी देवनाथ का गुजरात के कच्छ जिले में अच्छा-खासा प्रभाव है। इतना ही नहीं कच्छ जिले की रापर विधानसभा क्षेत्र से योगी देवनाथ को अगले विधानसभा चुनाव में उतारने की अटकलें भी लगाई जा रही हैं।

इससे पहले वे इसी साल सितंबर में चर्चा में आए थी जब उनका एक ट्वीट वायरल हुआ जिसमें उन्होंने लिखा, '851000 फॉलोवर्स होने पर सभी का दिल से धन्यवाद। यह फॉलोवर्स नहीं, मेरे परिवार का हिस्सा हैं। आप लोगों का ऐसे ही एक बहन को प्यार मिलता रहे।' इस ट्वीट में उन्होंने बहन लिखा तो लोग उन पर आरोप लगाने लगे कि फॉलोवर्स बढ़ाने के लिए वह बहन लिख रहे हैं। हालांकि बाद में उन्होंने सफाई दी कि उनका अकाउंट हैक हो गया था।

फिलहाल अब वे एक बार फिर चर्चा में हैं और 'गुजरात का योगी' हैशटेग ट्रेंड हो रहा है। उन्होंने खुद ही इस ट्रेंड का स्क्रीनशॉट लेकर ट्विटर पोस्ट किया है. उन्होंने लिखा कि, 'हिंदू समाज की सुरक्षा समृद्धि एवं राष्ट्रनिर्माण के लिए कार्य सदैव जारी रहेगा, सभी राष्ट्रवादियों का साथ बना रहे, सभी के प्रेम हेतु ह्दय से धन्यवाद।' साथ ही उन्होंने 'गुजरात के योगी' हैशटैग का यूज भी किया।

इसके अलावा तमाम यूजर्स ने भी उनके बारे में पोस्ट किया। रायबरेली बीजेपी नेता और एमएलसी दिनेश प्रताप सिंह ने योगी देवनाथ की एक तस्वीर योगी आदित्यनाथ के साथ पोस्ट करते हुए लिखा, 'योगी देवनाथ ने 12 वर्ष की आयु में संन्यास स्वीकार कर लिया था और नाथ अखाड़े के सदस्य बन गए थे। योगी देवनाथ और यदि आदित्यनाथ अक्सर अपने अखाड़े के मंच पर एक-दूसरे से मिलते हैं और अच्छे संबंध रखते हैं।'